उत्तर प्रदेशराज्य

अलीगढ़ में टेलर की लड़की बनेगी डॉक्टर, यूपी के दो लड़कों ने NEET में किया टॉप

अलीगढ़: कहा जाता है कि अगर कुछ कर गुजरने का जज्बा दिल में हो, तो मंजिल खुद ब खुद आसान हो जाती है. ऐसा ही कुछ अलीगढ़ मे देखने को मिला, जहां अब दर्जी की बेटी भी बनेगी डॉक्टर. दरअसल, नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (एनटीए) द्वारा जारी किए गए NEET UG 2024 के परिणामों में दर्जी की बेटी ने भी बाजी मारी है. अलीगढ़ के जमालपुर हमदर्दनगर में रहने वाली अल्फिया खान ने पारिवारिक हालातों और चुनौतियों से जूझते हुए अपना नाम रोशन किया है. अल्फिया खान ने नीट यूजी के परिणामों में 720 अंकों में से 691 अंक पाकर ऑल इंडिया में 4216 रैंक हासिल की है.

अल्फिया खान ने लोकल 18 को बताया कि उसके पिता इरफान खान टेलर मास्टर (दर्जी) हैं. घर में परिवार की आर्थिक स्थिति भी ज्यादा ठीक नहीं है. लेकिन, तमाम चुनौतियों और हालातों से जूझते हुए उसने जो सपना देखा था. अब वह सच होता हुआ दिखाई दे रहा है. अल्फिया ने बताया कि वह डॉक्टर बनना चाहती है. इसके लिए वह काफी मेहनत और लग्न के साथ जुटी हुई है. नीट यूजी 2024 में दाखिला लेने के बाद दो साल तक उसने आकाश इंस्टीट्यूट से अपनी तैयारी की. कड़ी मेहनत और परिश्रम के साथ-साथ माता-पिता के सहयोग और टीचर्स द्वारा समझाए गए कॉन्सेप्ट्स के कारण उसने यह उपलब्धि हासिल की है.

पिता को बेटियों पर गर्व

अल्फिया खान के पिता इरफान खान ने बताया कि वह दो बेटियों के पिता हैं. एक बेटी 10 में हैं, तो दूसरी बेटी डॉक्टर बनने की तैयारी कर रही है. दर्जी होते हुए घर का खर्च जैसे-तैसे चल पाता है. ऐसे में उनके लिए सबसे ज्यादा गर्व करने की बात है कि उनकी दो बेटियां हैं और दोनों ही होनहार हैं.

कोचिंग ने भी दिखाई दरियादिली

वहीं, अल्फिया के कोचिंग सेंटर आकाश इंस्टीट्यूट के एकेडमिक हैड पवन कुमार सिंह ने बताया कि अगर किसी बच्चे में टैलेंट हैं, तो उसे आगे बढ़ाया जाता है. ऐसे में बच्चे की आर्थिक स्थिति को ध्यान में रखा जाता है. छात्रा अल्फिया खान काफी टैलेंटेड और मेहनती बच्ची है. संस्थान को जब अल्फिया के बारे में जब यह जानकारी हुई की उनके पिता दर्जी हैं, तो छात्रा को निःशुल्क पढ़ाई कराई गई.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *