उत्तर प्रदेशराजनीतिराज्य

मेरठ सीट से अरुण गोविल की जीत, सपा प्रत्याशी सुनीता वर्मा की हुई हार

मेरठ हापुड़ लोकसभा सीट पर भाजपा प्रत्याशी अरुण गोविल तकरीबन 10 हजार वोटों से जीत गए हैं। हालांकि इसकी आधिकारिक घोषणा का इंतजार है। वहीं तगड़ी टक्कर देने के बावजूद सीट नहीं निकाल पाने के बाद सपा प्रत्याशी सुनीता वर्मा के पति योगेश वर्मा मायूस होकर मतदान केंद्र से लाैट गए।

मेरठ लोकसभा सीट से चुनाव जीते भाजपा प्रत्याशी अरुण गोविल ने कहा कि मैं मतदाताओं, भाजपा कार्यकर्ताओं और पार्टी नेतृत्व को धन्यवाद देना चाहता हूं। उन्होंने कहा कि मैं अपनी पूरी क्षमता से उनकी उम्मीदों पर खरा उतरने की कोशिश करूंगा।

योगेश वर्मा ने पत्रकारों से बात करते हुए कहा कि कम समय मिलने के बावजूद भी सपा गठबंधन ने मेरठ-हापुड़ लोकसभा सीट पर मजबूती से चुनाव लड़ा। कम अंतर से ही हार हुई। यदि, 10 दिन का समय ओर मिल जाता तो नतीजा अलग होता। देशभर में इंडिया गठबंधन ने मजबूती से चुनाव लड़कर सभी को चौंका दिया। मंगलवार को मतगणना पूरी होने के बाद मेरठ-हापुड़ लोकसभा सीट से सपा गठबंधन की प्रत्याशी सुनीता वर्मा के पति पूर्व विधायक योगेश वर्मा ने यह बात कहीं।

पूर्व विधायक योगेश वर्मा ने कहा कि वह सपा के राष्ट्रीय  अध्यक्ष का धन्यवाद करते है, जिन्होंने सामान्य सीट पर उन्हें टिकट दिया। टिकट थोड़ी देरी से हुआ, जिस कारण लोगों के बीच पहुंचने के लिए समय कम मिला। कहा कि काफी गांव छूट गए, जिस कारण वहां के लोगों से वह नहीं मिल सके। यदि, 10 दिन चुनाव प्रचार के लिए ओर मिल जाते तो आज सपा गठबंधन की जीत होती।

कहा कि चुनाव के दौरान कोई गड़बड़ी नहीं हुई और न ही मतगणना के दौरान कोई गड़बड़ी हुई। लगातार वह ओर उनके समर्थक निगरानी कर रहे थे। पूर्व विधायक योगेश वर्मा ने कहा कि कुछ लोग अपने को बड़ा नेता मानते है, ऐसा नहीं होना चाहिए, अंतर कलह नहीं होनी चाहिए। नाम पूछने के सवाल पर कहा कि सभी को पता है और प्रेस काफ्रेंस करके सभी को बता भी दिया जायेगा, लेकिन नाम बताकर उस व्यक्ति को बड़ा नेता नहीं बनाना है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *