अपराधउत्तर प्रदेशराज्य

कानपुर शहर में जगह-जगह क्यों मिल रहीं लाशें, फुल हुआ पोस्टमार्टम हाउस; वजह कर देगी हैरान

उत्तर भारत के कई राज्य भीषण गर्मी की चपेट में हैं. उत्तर प्रदेश, दिल्ली, राजस्थान समेत कई राज्यों में तापमान 48 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच रहा है. भीषण गर्मी की वजह से जहां एक ओर जीवन जीना मुश्किल होता जा रहा है. वहीं जीवन के बाद की स्थिति भी बदतर है. कानपुर के पोस्टमार्टम हाउस में शवों का अंबार लग गया है. हालात ये हैं की पोस्टमार्टम हाउस में समुचित व्यवस्था न होने की वजह से शवों की दुर्गंध 300 मीटर तक फैल गई है.

पिछले 60 घंटों में 60 से ज्यादा शव और उनमें आधे से ज्यादा लावारिस लाशें हैं. यह आंकड़े कयास नहीं बल्कि आधिकारिक आंकड़े हैं. इतने शवों के पोस्टमार्टम हाउस पहुंचने से वहां के व्यवस्था की पोल खुल गई है. दर्जनों शव जमीन पर पड़े हुए हैं. एक-एक टेबल पर दो दो शव रखे गए हैं. लावारिस शवों का दाह संस्कार करने वाली संस्था का दावा है की रोज 10 से 12 शव मिल रहे हैं. उनकी मौत गर्मी से हो रही है.

300 मीटर तक फैल रही दुर्गंध

मृतक के परिजनों ने बताया कि कानपुर के हैलेट अस्पताल के पोस्टमार्टम हाउस का हाल तो पूरी तरह बेहाल है. वहां पर मात्र 4 डीप फ्रीजर है, जबकि शवों की संख्या दर्जनों है. एसी की व्यवस्था न होने की वजह से शवों की दुर्गंध 300 मीटर तक फैल गई है. मृतकों के परिजन अंदर जा नहीं पा रहे हैं. इसलिए दुर्गंध की वजह से सड़क के किनारे बैठने को मजबूर हैं.

मौके पर पहुंचा स्थानीय प्रशासन

जब इस पूरी अव्यवस्था की जानकारी डीएम को दी गई तो उन्होंने एडीएम सिटी और सीएमओ को पोस्टमार्टम हाउस भेजकर स्थिति से अवगत कराने को कहा है. टीम के पहुंचने के बाद वहां पर पीने के पानी को व्यवस्था करवाई गई, जबकि उससे पहले परिजनों के लिए पानी की व्यवस्था भी नहीं थी. मौके पर पहुंचे सीएमओ ने व्यवस्थाएं दुरुस्त करने का भरोसा दिलाया है. हालांकि, अभी तक कोई व्यवस्था क्यों नहीं की गई. इसका कोई जवाब सीएमओ के पास नहीं है.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *