अपराधउत्तर प्रदेशराज्य

महोबा पुलिस ने नकली नोट छापने वाले को किया गिरफ्तार, 15 लाख की फेक करेंसी बरामद

उत्तर प्रदेश के महोबा में नकली नोटों का जखीरा मिलने से पुलिस हैरत में पड़ गई। स्थानीय पुलिस और स्वाट टीम ने एक शातिर अभियुक्त से 15 लाख रुपए से अधिक के नकली नोट बरामद कर इस गोरखधंधे का पर्दाफाश कर दिया। पकड़े गए अभियुक्त के पास से पुलिस ने नकली नोट सहित नोट छापने का प्रिंटर,  पेपर,  इंक, तीन मोबाइल और एक बाइक बरामद की है। आरोपी ने यूट्यूब से नकली नोट छापने का तरीका सीख एक महीने में 15 लाख से अधिक के नोट छाप डाले जिसे वह मार्केट में उतारने निकला था मगर चेकिंग के दौरान वह पुलिस के हत्थे चढ़ गया।

महोबा में कम समय में ज्यादा पैसा कमाने के लालच ने एक युवक को इस कदर अंधा कर दिया कि उसने नकली नोट छापने का गोरखधंधा शुरू कर दिया। बताया जाता है की पकड़ा गया शातिर अभियुक्त उत्तर प्रदेश के गाजीपुर जनपद अंतर्गत आने वाले थाना मुहम्मदाबाद के ग्राम हाटा निवासी अंकुर कुमार बिंद है। 21 साल के इस युवक ने यूट्यूब से नकली नोट बनाना सीखा और फिर महोबा शहर के लौड़ी तिगैला इलाके में किराए से मकान लेकर इस गोरख धंधे को शुरू कर दिया। इसके द्वारा घर में ही एक महीने में 15 लाख 61 हजार 800 रुपए के नकली नोट छाप दिए गए। 500 रुपए के 983 नोट, 200 रुपए के 4506 नोट और 100 रुपए 1691 नोट छापे गए हैं। उक्त अभियुक्त इतना शातिर है कि उसने इन नकली नोटों को मार्केट में खपाने की तैयारी कर ली और अपनी बाइक से इन नोटों को बाजार में भेजने निकला था।

नकली नोट को बाजार में खपाने की थी तैयारी 

बताया जाता है कि यह एक बैग में नकली नोट लेकर जनपद के पनवाड़ी थाना कस्बा क्षेत्र में एकता ढाबे के पास मुख्य सड़क से गुजरा था। जनपद की स्वाट टीम को मुखबारों से सूचना मिली कि महोबा में नकली नोट का काला कारोबार चल रहा है। और अभियुक्त नोट को बाजार में खपाने की तैयारी में है इसकी सूचना पर पुलिस ने नाकाबंदी कर दी। स्थानीय पनवाड़ी पुलिस के साथ चेकिंग के दौरान अपाचे बाइक से निकले उक्त युवक को पुलिस ने पकड़ लिया। उसकी तलाशी में उसके पास से नकली नोट बरामद हुए हैं। पूछताछ में जब पुलिस ने उसके ठिकाने पर छापेमारी की तो पुलिस हैरत में पड़ गई। उसके पास से 15 लाख से अधिक के नकली नोट के अलावा प्रिंटर, पेपर, इंक और तीन मोबाइल के साथ बाइक बरामद की गई। साथ ही नकली नोट छापने के बाद बची कतरन भी बड़ी मात्रा में मिली है। जिसकी सूचना पुलिस अधिकारियों को मिलते ही सभी हैरत में पड़ गए और आरोपी के खिलाफ पनवाड़ी थाने में ही मुकदमा अपराध संख्या 123/24 धारा 420, 489A ,489B, 489C, 489D, 489E दर्ज कर लिया गया और उसे जेल भेजा गया है।

सीओ हर्षिता गंगवार बताती है कि पकड़ा गया अभियुक्त बड़ी ही शातिराना तरीके से नकली नोट बनाने का कारोबार कर रहा था, एक माह में उसने बड़ी मात्रा में नोट छाप डाले। असली नोट की जिरोक्स कर उसने 15 लाख से अधिक के नोट छापे है। लेकिन इससे पहले वह बाजार में नकली नोटों को पहुंचाता पुलिस ने उसे पकड़ लिया है। बड़ी मात्रा में नकली नोटों का जखीरा बरामद कर पुलिस ने आरोपी को जेल भेजा है और आगे की कार्यवाही की जा रही है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *