अपराधउत्तर प्रदेशराज्य

‘मौत के बाद का आनंद लीजिए’, जालौन में दो दोस्तों ने की खुदकुशी; मरने से पहले लगाया था WhatsApp स्टेटस

जालौन: यूपी के जालौन में एक ऐसी वारदात सामने आई है जिसे सुनकर आपके रोंगटे खड़े हो जाएंगे। वैसे तो प्रवचन और विचार जिंदगी में सुधार लाते है लेकिन क्या कभी सोचा है कि कोई इन प्रवचनों से इतना भी प्रभावित हो सकता है कि कोई मौत का रास्ता भी चुन सकता है। जी, हां जालौन में ऐसी की घटना घटित हुईं यहां पर मंगलवार को दो दोस्तों ने देर रात को सल्फास खाकर जान दे दी। इस घटना से इलाके में हड़कंप मच गया। घटना में कुछ खुलासे ऐसे थे, जो काफी चौंकाने वाले थे। मरने से पहले दोनों दोस्तों ने व्हाट्सएप पर पहले स्टेट्स लगाया था कि ‘मौत ही सत्य है’। दोनों दोस्त ओशो के फॉलोअर थे।

दरअसल, पूरा मामला जालौन के कालपी थाना क्षेत्र का है। यहां का रहने वाला अमन वर्मा (23) और उसका दोस्त बालेंद्र (21) जो कि आलमपुर का रहने वाला था। दोनों ने कर्बला के मैदान में सल्फास खाकर जान दे दी, जिसमें बालेंद्र की मौके पर मौत हो गई, जबकि अमन की हालत बिगड़ने लगी तो उसने अपने परिजनों को फोन करके सूचना दी। घटना की जानकारी मिलते ही स्थानीय पुलिस मौके पर पहुंची, जिन्होंने मृतकों के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। इसके बाद परिवार के लोग मौके पर पहुंचे और दोनों को तत्काल इलाज के लिए कालपी के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र लेकर पहुंचे, मगर दोनों की इलाज होने से पहले मौत हो गई।

दोनों दोस्तों के बीच में थी गहरी दोस्ती

इस आत्महत्या की घटना से इलाके में सनसनी फैल गई। घटना की जानकारी मिलते ही स्थानीय पुलिस मौके पर पहुंची, जिन्होंने मामले की जांच शुरू कर दी। जांच के दौरान पता चला कि अमन और बालेंद्र में गहरी दोस्ती थी। अमन मेडिकल स्टोर का संचालन करता था और शादी शुदा था, जबकि बालेंद्र की शादी नहीं हुई थी और बालेंद्र, अमन के पास आता जाता रहता था। दोनों मंगलवार को कब्रिस्तान गए जहां उन्होंने सल्फास खाकर जान दे दी। वहीं इस घटना के बाद परिजनों का रो-रो कर बुरा हाल है, पुलिस ने मृतकों के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया।

ओशों के प्रवचनों से काफी रहते थे प्रभावित

दोनों मेडिकल स्टोर पर ही बैठते थे। बालेंद्र हमेशा अमन की मदद करता था। दोनों ही ओशो के प्रवचन से काफी प्रभावित थे। अमन ने सुसाइड करने से पहले 3 स्टेटस लगाए थे। पहले स्टेटस में लिखा- तुम अपने रास्ते, मैं अपने रास्ते। इस वीडियो में कुछ लोग एक लाश ले जाते दिख रहे हैं। वहीं दूसरे स्टेटस में लिखा- जीवन में ऐसा काम चुने, जो आपका आनंद हो, व्यवसाय नहीं। तीसरे स्टेटस में एक लाश जलती हुई का वीडियो लगाया।

वहीं जहर खाने से पहले ही बालेंद्र ने फोन में स्टेटस लगाया था कि मृत्यु ही सत्य है, जिसके बाद दोनों ने जहर खाकर आत्महत्या कर ली। इस मामले में कालपी सीओ डॉक्टर देवेंद्र पचौरी का कहना है कि मामले की जांच कर रही है कि किन परिस्थितियों में दोनों ने आत्महत्या की है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *