अंतर्राष्ट्रीय

पाकिस्तान के एक स्कूल में लगी आग, मुश्किल से बचाई गई 1400 छात्राओं की जान

पेशावरः पाकिस्तान के खैबर पख्तूनख्वा प्रांत के एक पहाड़ी इलाके में एक स्कूल में भीषण आग लग गई। इसकी चपेट में आने से स्कूली छात्राओं की जान मुश्किल में पड़ गई। स्कूल की इमारत से सोमवार को लगभग 1,400 छात्राओं को सुरक्षित बाहर निकाला गया। यह जानकारी मीडिया की एक खबर से मिली। ‘जियो न्यूज’ ने एक बचाव अधिकारी के हवाले से बताया कि आग हरिपुर जिले के सिरिकोट गांव में सरकारी गर्ल्स हायर सेकेंडरी स्कूल में उस समय लगी जब सैकड़ों छात्राएं अंदर थीं। उन्होंने बताया कि स्थानीय निवासियों के साथ अग्निशमन कर्मियों ने आग बुझाना शुरू किया।

अधिकारी ने कहा कि पहाड़ी इलाका होने के कारण दमकल की गाड़ियों को घटनास्थल तक पहुंचने में परेशानी का सामना करना पड़ा। हरिपुर के रेस्क्यू 1122 के प्रवक्ता फराज जलाल ने कहा कि वहां लगभग 1,400 छात्राएं थीं और उन सभी को स्कूल की इमारत से सुरक्षित निकाल लिया गया। प्रवक्ता ने कहा कि विद्यालय की इमारत आग से पूरी बुरी तरह क्षतिग्रस्त हो गई। बचाव विभाग ने पुष्टि की कि इसमें कोई जनहानि नहीं हुई है और कहा कि स्कूल भवन का आधा हिस्सा लकड़ी से बना हुआ था।

शॉर्ट सर्किट से लगी आग

खैबर पख्तूनख्वा के मुख्य सचिव नदीम असलम चौधरी ने पुष्टि की कि स्कूल की इमारत में आग शॉर्ट सर्किट के कारण लगी। चौधरी ने कहा कि घटना की जांच की जा रही है और स्कूल को जल्द ही चालू किया जाएगा। पाकिस्तान का खैबर पख्तूनख्वा एक अशांत प्रांत है, जहां आतंकवादियों द्वारा स्कूल भवनों को अक्सर निशाना बनाया जाता रहा है। खैबर पख्तूनख्वा के मुख्यमंत्री अली अमीन गंडापुर ने कहा कि बचाव अधिकारियों ने समय पर कार्रवाई की और छात्राओं को बाहर निकाला। मुख्यमंत्री ने कहा कि शिक्षा विभाग और जिला प्रशासन दुर्घटना के संबंध में एक रिपोर्ट सौंपेंगे। उन्होंने कहा कि सभी शिक्षण संस्थानों की समीक्षा की जाएगी ताकि भविष्य में ऐसी घटना न हो। गंडापुर ने कहा कि प्रांतीय सरकार आग से हुए नुकसान की भरपाई करेगी।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *