अपराधउत्तर प्रदेशराज्य

दो बच्चों को जहर देकर फांसी के फंदे से लटकी मां, महिला और छोटे बेटे की मौत, सामने आई वजह

यूपी के उन्नाव जिले के शहर कोतवाली क्षेत्र में एक महिला ने अपने बेटों को जहरीला पदार्थ खिलाकर फिर खुद को फांसी लगा ली. पटकापुर गांव की रहने वाली महिला ने ससुराल वालों की प्रताड़ना से आहत होकर अपने दो बेटों को जहरीला पदार्थ देने के बाद फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली. इसके चलते महिला और छोटे बेटे की मौत हो गई और बड़े बेटे का इलाज हैलेट अस्पताल कानपुर में चल रहा है.

घटना की सूचना मिलने पर मौके पर पहुंचे मृतका के पिता की तहरीर के आधार पर सदर कोतवाली पुलिस ने जेठ, जेठानी समेत चार लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है और दोनों के शवों को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है.

तेरह साल पहले हुई थी शादी

जानकारी के मुताबिक, बिहार थाना क्षेत्र के चिकंदरपुर गांव के रहने वाले शिव शंकर ने सदर कोतवाली में तहरीर देकर बताया की लगभग तेरह साल पहले उन्होंने अपनी पैंतीस साल की बेटी सोमवती की शादी सदर कोतवाली क्षेत्र के पटकापुर गांव निवासी मोतीलाल के बेटे संतकुमार के साथ की थी. बेटी के दो बेटे 12 साल का अंश और नौ साल का सुधीर है. चार महीने पहले बीमारी के चलते दामाद संत कुमार की मौत हो गई थी.

परेशान कर रहे थे ससुराल वाले

पति की मौत के बाद ससुराल के लोग, मृतिका के जेठ कमलेश, प्रकाश, बालकराम और जेठानी मधु आए दिन लड़ाई झगड़ा कर मृतिका सोमवती को प्रताड़ित करते थे. पिता का कहना है की इन लोगों की प्रताड़ना से तंग आकर शनिवार की रात दोनों बेटों को जहरीला पदार्थ देकर बेटी सोमवती ने खुद फांसी लगाकर जान दे दी. इस घटना में बेटी सोमवती और उसके छोटे बेटे सुधीर की मौके पर ही मौत हो गई और बड़े बेटे अंश का हैलट में इलाज चल रहा है, जिसे खतरे से बाहर बताया जा रहा है.

पिता की तहरीर पर मामला दर्ज

पुलिस ने मृतका सोमवती के पिता शिव शंकर की तहरीर पर मृतिका के चार ससुराल वालों पर आत्महत्या के लिए मजबूर करने का केस दर्ज कर शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है. सीओ सिटी सोनम सिंह ने बताया की मृतका के पिता की तहरीर पर मुकदमा दर्ज कर लिया गया है और आगे की विधिक कार्रवाई की जा रही है.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *