अपराधउत्तर प्रदेशराज्य

रुपए न मिलने पर पथरी के ऑपरेशन के बहाने पत्नी की किडनी निकलवाई, पति पर दहेज मांगने का भी आरोप

बरेली- बरेली में एक विवाहिता ने अपने पति पर संगीन आरोप लगाया है. विवाहिता ने बताया कि दहेज की मांग पूरी न होने पर उसके पति ने उसकी किडनी निकाल कर बेच दी. विवाहिता का पति उसे पेट में ड्रेसिंग करवाने के बहाने अस्पताल में ले गया और उसे बेहोश करके उसकी किडनी निकाल के बेच दी. विवाहिता की तहरीर पर पति समेत पांच ससुरालियों पर थाना शाही में एफआईआर दर्ज की है.

2017 में हुई थी शादी

पीडित का नाम पूजा है और उसका विवाह 2017 में बरेली के हरीश बाबू से हुआ था. शादी के समय उसके पिता ने अपनी हैसियत के हिसाब से दान-दहेज दिया था लेकिन शादी के कुछ समय बाद ही दहेज लोभी ससुरालयों ने नगदी की मांग शुरू कर दी. पूजा के ससुराल वाले उसके साथ रोज मारपीट करते थे. कई बार मायके वाले और ससुराल वाले ने बैठ कर समझौता भी हुआ लेकिन थोड़े समय के बाद फिर वैसी स्थिति आ जाती थी.

पेट मे हुआ दर्द

उसने बताया कि उसके पेट में कुछ समय से दर्द हो रहा था. जब डॉक्टरी चेकअप कराया तो पता चला कि उसके पेट में पथरी है. जिसके बाद उसका पथरी का ऑपरेशन हुआ और उसको सही सलामत घर ले जाया गया. एक हफ्ते बाद जब उसको ड्रेसिंग करने के लिए दोबारा अस्पताल लाया गया तो उसके पति ने एक फार्म पर उसके साइन करवाए. उसे बेहोश करके ऑपरेशन थेटर में ले गए ,उसके बाद लगातार दर्द रहने के बाद पता चला कि उसकी एक किडनी को निकाल लिया गया है.

मेडिकल करवाने पर पता चला 

जब पति से इस विषय में बात की गई तो पति और ससुराल वाले उसकी मारपीट करके उसे शांत करा देते थे. लेकिन जब उसने घर आकर मेडिकल करवाया तो मेडिकल में एक किडनी निकालने की पुष्टि हो गई. महिला ने एसएसपी के सामने पेश होकर न्याय की गुहार लगाई. जिसके बाद एसएसपी के आदेश पर थाना शाही में पति समेत पांच लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज करा गया है.

पूजा के वकील का कहना 

पूजा के वकील का कहना है कि वह थाने के चक्कर लगा लगाकर परेशान हो गई है. लेकिन उसकी सुनवाई नहीं हुई. आखिरकार वो कप्तान के संपर्क में आई और फिर उन्होंने दहेज को लेकर पति और ससुराल वाले के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया. इस घटना से हमारे समाज का एक घिनौना रूप सामने आया है. जिसमें दहेज लोभी ससुरालयों ने पैसे ना मिलने पर किडनी बेचकर अपनी पैसे की भूख को शांत किया. अब देखने वाली बात यह होगी कि आखिर कब तक इस विवाहिता को न्याय मिल पाता है.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *