अंतर्राष्ट्रीय

Pakistan: एयरलाइन कंपनी की बड़ी लापरवाही, एयरपोर्ट पर शव को छोड़ PIA का विमान रवाना, रोते-रोते परिजन हुए बेहोश

इस्लामाबादः पाकिस्तान में एयरनाइन की बड़ी लापरवाही का  दिल दहला देने वाला मामला सुर्खियों में  है। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार विमान के कर्मचारियों की लापरवाही की वजह से छह वर्षीय लड़के का शव एयरपोर्ट पर पड़ा रहा। दरअसल, इस्लामाबाद से स्कर्दू जा रहे पाकिस्तान इंटरनेशनल एयरलाइंस (PIA) के कर्मचारी एक छह साल के बच्चे का शव विमान में रखना भूल गए। डॉन की रिपोर्ट के अनुसार मृतक बच्चे के माता-पिता PIA  कर्मचारियों की इस लापरवाही से अनजान रहे और विमान में बैठ गए। जब उन्हें पता चला कि एयरलाइंस कर्मचारियों ने उनके बेटे का शव   एयरपोर्ट पर ही छोड़ दिया तो वे हैरान हुए और चीखने-चिल्लाने व सदमे  से बेहोश हो गए।

यह है पूरा मामला 

मीडिया  रिपोर्ट के अनुसार  खरमंग जिले के कात्शी गांव के निवासी मुहम्मद अस्करी को  स्कर्दू के एक अस्पताल में  अपने 6 वर्षीय बेटे मुजतबा के ट्यूमर के बारे में  पता चला और डॉक्टरों ने मुजतबा को एक महीने पहले इलाज के लिए रावलपिंडी रेफर कर दिया। इसके बाद मुहम्मद अस्करी और मां मुजतबा को रावलपिंडी ले गए और बेनजीर भुट्टो अस्पताल में हफ्तों तक उसका इलाज करवाया। इस दौरान 9 मई  को  को अस्पताल में मुजतबा की मौत हो गई। दुख से बेहाल माता-पिता ने  10 मई को PIA की उड़ान  से अपने बच्चे का  शव  दफनाने के लिए  ने पैतृक गांव कात्शी ले जाने का फैसला किया, क्योंकि भीषण गर्मी के कारण शव के साथ इस्लामाबाद से स्कर्दू तक सड़क मार्ग से 24 घंटे की यात्रा संभव नहीं थी।

मृतक बच्चे के माता-पिता और एक अन्य रिश्तेदार ने शुक्रवार सुबह इस्लामाबाद से स्कर्दू के लिए उड़ान PK-451 में अपने टिकट की पुष्टि की। वे शव को सुबह 6 बजे इस्लामाबाद हवाई अड्डे पर लाए और SOP और एयरलाइन के नियमों को पूरा करने के बाद शव के लिए कार्गो प्रक्रिया पूरी की और भुगतान किया।मृतक के रिश्तेदार इब्राहिम असदी ने   बताया कि शव को माता-पिता के साथ सुबह 9 बजे इस्लामाबाद से स्कर्दू ले जाया जाना था। उन्होंने कहा कि उड़ान में चार घंटे की देरी हुई और वह दोपहर एक बजे इस्लामाबाद से रवाना हुई। दोपहर 2 बजे स्कर्दू हवाई अड्डे पर पहुंचने पर माता-पिता को सूचित किया गया कि गलती से शव को विमान में नहीं चढ़ाया गया और इस्लामाबाद हवाई अड्डे पर ही छोड़ दिया गया। इस खबर से माता-पिता पहले काफी दुखी हुए और रोते-रोते बेहोश हो गए।

PIA प्रबंधन  के खिलाफ विरोध प्रदर्शन

इस हरकत से खफा मृतक बच्चे के परिजनों ने आक्रोश में PIA प्रबंधन की लापरवाही के खिलाफ विरोध प्रदर्शन शुरू कर दिया।  यह सिलसिला लगभग तीन घंटे तक चला जिसके बाद PIA  नागरिक उड्डयन प्राधिकरण और अन्य विभागों के अधिकारियों ने बच्चे के माता-पिता और रिश्तेदारों को शांत करने की कोशिश की और अपनी गलती स्वीकार की। उन्होंने माता-पिता को शनिवार (आज) शव वापस लाने का आश्वासन दिया है।PIA अधिकारियों ने कहा कि जो कंपनी हवाई अड्डे पर कार्गो संभालती है, शव को लोड न करने के लिए जिम्मेदार है और माता-पिता को आश्वासन दिया है कि लापरवाही के लिए उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। लड़के के माता-पिता और रिश्तेदारों ने  सरकार से लापरवाही के लिए जिम्मेदार लोगों के खिलाफ कार्रवाई करने की अपील की है।

एय़रलाइन ने मंत्री के कारण छोड़ दिया बच्चे का शव !

मृत लड़के के एक अन्य रिश्तेदार यूसुफ कमाल ने कहा कि शव को जानबूझकर विमान पर नहीं लादा गया था। उन्होंने कहा कि कश्मीर मामलों के मंत्री और गिलगित-बाल्टिस्तान इंजीनियर अमीर मुक़ाम शुक्रवार को इस्लामाबाद से गिलगित के लिए उड़ान भरने वाले थे। उन्होंने कहा कि खराब मौसम की स्थिति के कारण इस्लामाबाद से गिलगित के लिए PIA की उड़ान संचालित नहीं हो सकी। उन्होंने कहा कि संघीय मंत्री ने अपनी योजना बदल दी और स्कर्दू जाने का फैसला किया और यात्रियों को इंतजार कराया। उन्होंने कहा कि उड़ान सुबह 9 बजे इस्लामाबाद से रवाना होने वाली थी, लेकिन मंत्री को समायोजित करने के लिए इसे दोपहर 1 बजे तक विलंबित किया गया, जिससे शव हवाई अड्डे पर ही छूट गया।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *