अपराधउत्तर प्रदेशराज्य

लॉरेंस बिश्नोई गैंग के बदमाश को यूपी STF ने किया गिरफ्तार, मनीष यादव करता था असलहे सप्लाई

Lawrence Bishnoi News: उत्तर प्रदेश एसटीएफ को बड़ी सफलता मिली है. यूपी के गोरखपुर से एसटीएफ की गोरखपुर यूनिट ने लारेंस बिश्‍नोई गैंग के गुर्गे को गिरफ्तार किया है. पुलिस और एसटीएफ को इसकी काफी दिनों से तलाश रही है. मनीष कुमार यादव लारेंस बिश्‍नोई गैंग का सक्रिय सदस्‍य रहा है. एसटीएफ ने उसे गोरखपुर से गिरफ्तार किया है, वो गोरखपुर का रहने वाला है. उसने पूछताछ में माना है कि वो शशांक पाण्‍डेय के माध्‍यम से लारेंस बिश्‍नोई गैंग से जुड़ा था और इंदौर में रहकर असलहा सप्‍लाई का काम करता रहा है. गैंग के तार सिंगर सिद्धू मूसेवाला हत्‍याकांड से भी जुड़े हैं.

गोरखपुर के चिलुआताल थानाक्षेत्र के बरगदवां रामलीला मैदान के पास से यूपी एसटीएफ की गोरखपुर यूनिट के निरीक्षक सत्‍य प्रकाश सिंह और हरियाणा के अंबाला की एसटीएफ द्वारा लारेंस बिश्‍नोई गैंग के गुर्गे मनीष कुमार यादव को गिरफ्तार किया है. उसकी गिरफ्तारी 9 मई को शाम 5 बजे के करीब चिलुआताल थानाक्षेत्र के बरगदवां रामलीला मैदान के पास से की गई है. मनीष कुमार यादव पुत्र सदानन्‍द यादव चिलुआताल थानाक्षेत्र के बरगदवां रामलीला मैदान के पास वार्ड नंबर 43 का रहने वाला है.

एसटीएफ गोरखपुर के निरीक्षक सत्य प्रकाश सिंह के नेतृत्व में एसटीएफ टीम गोरखपुर और अंबाला एसटीएफ, हरियाणा द्वारा अभिसूचना संकलन की कार्यवाही की जा रही थी. इस दौरान लारेंस बिश्नोई गैंग के सदस्य मनीष कुमार यादव के बरगदवां गोरखपुर में मौजूद होने की पुख्‍ता सूचना मिली. इस सूचना पर विश्वास कर एसटीएफ टीम व अंबाला एसटीएफ हरियाणा द्वारा संयुक्त रूप से कार्रवाई में मनीष को गिरफ्तार कर लिया गया.

एसटीएफ की पूछताछ में गिरफ्तार मनीष कुमार यादव ने बताया कि कैंट थानाक्षेत्र के सिंघडि़या के रहने वाले शशांक पाण्डेय पुत्र नित्यानन्द पाण्डेय जो पूर्व में अंबाला जेल में बंद था. वहीं उसकी मुलाकात विक्की लाला से जेल में हुई थी. विक्‍की लारेंस बिश्नोई गैंग का सदस्य है. जेल से छूटने के बाद शशांक भी लारेंस बिश्नोई गैंग का सदस्य बन गया. शशांक के माध्‍यम से मनीष कुमार यादव भी लारेंस बिश्नोई गैंग से जुड़ गया और ये लोग इन्दौर मध्य प्रदेश से लारेंस बिश्नोई गैंग को असलहा सप्लाई करने लगे.

सिद्धू मूसेवाला की हत्‍या में भी है शामिल

अप्रैल 2023 में अंबाला शहर में मखन सिंह लबाना से लॉरेंस बिश्नोई के गैंग के अनमोल बिश्नोई ने 50 लाख की रंगदारी की मांग की थी. पैसा नहीं देने पर उसके घर पर फायरिंग करवाई थी. अनमोल बिश्नोई, लॉरेंस बिश्नोई का चचेरा भाई है. जब अनमोल बिश्नोई ने फिरौती मांगी थी, तब वह विदेश में था. फायरिंग के लिए विक्की लाला के साथ मिलकर शशांक पाण्डेय और मनीष कुमार यादव ने पिस्टल की सप्लाई बिश्नोई गैंग को की थी. पंजाबी पॉप सिंगर सिद्धू मूसेवाला की हत्‍या में भी इनके शामिल होने और असलहा सप्‍लाई के पुख्‍ता सुबूत मिले थे.

कुरुक्षेत्र में मनीष के खिलाफ दर्ज है केस

विक्की गर्ग उर्फ लाला पुत्र जयकिशन निवासी शक्तिनगर नजदीक मानव चौक अंबाला शहर और शशांक पाण्डेय पुत्र नित्यानन्द पाण्डेय निवासी आदर्श नगर सिंघड़िया, गोरखपुर वर्तमान में अंबाला जेल में बंद हैं. मनीष के खिलाफ लॉरेंस बिश्नोई गैंग को असलहा सप्लाई करने के संबंध में हरियाणा के कुरुक्षेत्र जिले के शाहाबाद थाने में आर्म्‍स एक्‍ट की धारा 3/25 के तहत केस दर्ज है. इसी मामले में पुलिस और एसटीएफ को आरोपी की तलाश रही है. इसके ऊपर हरियाणा पुलिस ने इनाम भी घोषित कर रखा है. उसके खिलाफ गोरखनाथ थाने में साल 2019 में आईपीसी की धारा 147, 323, 342, 427, 504, 506 के तहत भी केस दर्ज है. हरियाणा एसटीएफ ट्रांजिट रिमांड के लिए उसे कोर्ट में पेश कर अंबाला के लिए रवाना होगी.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *