अपराधदिल्ली/एनसीआरनई दिल्ली

आपके WhatsApp पर भी आया स्कूल में बम की धमकी का ऑडियो मैसेज? दिल्ली पुलिस ने बताई सच्चाई

दिल्ली के 200 से ज्यादा स्कूलों में बुधवार को उस समय अफरा-तफरा मच गई जब ईमेल के जरिए स्कूल को बम से उड़ाने की धमकी मिली। तुरंत एक्शन में आई पुलिस ने स्कूलों में सघन तलाशी ली और बताया की जांच में कुछ नहीं मिला है। हालांकि पुलिस के दावों के उलट वाट्सऐप पर कुछ ऑडियो वायरल हो रहे हैं। जिसमें बताया जा रहा है डीपीएस (दिल्ली पब्लिक स्कूल) द्वारका और सफदरजंग स्थित एंबियंस स्कूल में बम मिला है। जिसे बम निरोधक दस्ते ने डिफ्यूज किया। उनपर संज्ञान लेते हुए दिल्ली पुलिस ने बयान जारी किया है। पुलिस का कहना है कि यह झूठ है।

वायरल ऑडियो पर पुलिस ने क्या कहा

पीआरओ दिल्ली पुलिस ने वायरल ऑडियो पर संज्ञान लेते हुए लोगों से इनपर विश्वास नहीं करने का अनुरोध किया है। पीआरओ ने बयान में कहा, ‘वाट्सऐप और अन्य चैट ग्रुप्स पर कुछ ऑडियो मैसेज भेजे जा रहे हैं जिसमें बताया जा रहा है कि कुछ स्कूलों में कुछ संदिग्ध वस्तुएं मिली हैं। ये मैसेज झूठे हैं और इनमें किसी तरह की सच्चाई नहीं है। मैं सभी से अनुरोध करता हूं कि कृपया इस बात को लोगों को बताएं कि ये मैसेज झूठे हैं।’

वायरल ऑडियो में क्या दावा किया जा रहा

सोशल मीडिया पर दो ऑडियो वायरल हो रहे हैं। एक में दावा किया जा रहा है कि डीपीएस द्वारका में बम मिला था जिसे डिफ्यूज किया गया। इस बात को विश्वसनीय सूत्र ने बताया है। दूसरे ऑडियो में एक महिला कहते हुए सुनाई दे रही है कि यह कोई फेक मेल नहीं है। हमारे घर के सामने बच्चे रहते हैं जो सफदरजंग एन्कलेव के एंबियंस मॉल में पढ़ते हैं। उनके स्कूल में बम मिला है। उन्हें उनका बैग नहीं मिला है। पूरे डिटेक्टर्स आए हुए हैं, उनके स्कूल से बम मिला है। एमिटी का कुछ पता नहीं चला है लेकिन इन दो स्कूल परिसर से सच में बम मिला था।

एलजी ने पुलिस आयुक्त से रिपोर्ट मांगी

उपराज्यपाल वीके सक्सेना ने मामले को लेकर पुलिस आयुक्त संजय अरोड़ा से रिपोर्ट मांगी है। एलजी बुधवार सुबह मॉडल टाउन स्थित एक स्कूल में स्थिति का जायजा लेने पहुंचे थे। उन्होंने कहा, ईमेल को लेकर अहम जानकारियां पुलिस को मिली हैं। आरोपियों को जल्द से जल्द गिरफ्तार करने के निर्देश दिए गए हैं। दोषी बख्शे नहीं जाएंगे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *