अपराधउत्तर प्रदेशराज्य

गर्मी से निजात पाने के लिए नहर में कर रहे थे मस्ती, सगी बहनों समेत 4 बच्चों की डूबने से मौत

बहराइच: गर्मी और उमस को मिटाने नहर में नहाने गए एक ही परिवार के चार बच्चों की डूबने से मौत हो गई है। मरने वालों में तीन बालिकाएं और एक बालक शामिल है। एक परिवार में इतने बड़े हादसे के बाद घर में कोहराम मच गया है। मुख्यालय से 50 किलोमीटर दूर हुए इस हादसे में परिवार को मदद और सनतावना देने के लिए अधिकारी मौके पर पहुंच गए हैं। नानपारा कोतवाली के गिरधरपुर गांव स्थित नहर में बुधवार को एक ही परिवार की किशोरियां और बालक नहा रहे थे। स्नान करते समय सभी की डूब कर मौत हो गई। इनमें से तीन के शव तो आसानी से मिल गए, लेकिन चौथी किशोरी का शव कई घंटों बाद मिला।

इस हादसे की जानकारी होते ही एसडीएम और पुलिस अधिकारी मौके पर पहुंचे हैं। कोतवाली नानपारा अंतर्गत गिरधरपुर गांव के ठीक सामने नहर स्थित है। नहर में इस समय पानी भरा हुआ है। इस नहर में गर्मी अधिक होने पर गांव निवासी आंचल (12) पुत्री शोभाराम, चोइनी (10) पुत्री श्रवण, राहुल (13) पुत्र सागर और माही (14) पुत्र सदबरन नहाने गए थे। दोपहर 12 बजे सभी नहा रहे थे। इसी दौरान पैर फिसलने से सभी बच्चे पानी में डूब गए। कुछ देर बाद परिवार के लोगों ने खोजबीन शुरू की तो नहर के पास कपड़े और चप्पल मिले, जिस पर सभी ने नहर में खोजबीन शुरू की।

मौके पर पहुंचे अधिकारी

ग्रामीणों की मदद से नहर से आंचल, चोईनी और राहुल का शव पहले बरामद कर लिया गया। जबकि माही का कुछ देर बाद पता चला। हादसे की जानकारी होने पर एसडीएम अश्विनी पांडेय, सीओ राहुल पांडेय और कोतवाल आरके सिंह, तहसीलदार गांव पहुंचे। सभी ने जांच कर बयान दर्ज किया गया। कोतवाल ने बताया कि चार बच्चों की डूबकर मौत हो गई है। उन्होंने यह भी बताया सभी एक परिवार के बच्चे थे।

बच्चों को समझाने की अपील

जिला अधिकारी मोनिका रानी ने बताया कि हादसे के बाद वहां फौरन ही राजस्व की टीम पहुंच गई, उनका पोस्टमार्टम कराया जा रहा है। राहत धनराशि शीघ्र ही परिवार को उपलब्ध करा दी जाएगी साथ ही यह भी अपील करना कि परिजन नदी-नहरों की गहराई जाने बिना बच्चों को उसके पास न जाने दें।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *