अपराधउत्तर प्रदेशराज्य

ईयरफोन लगाकर स्कूटी चलाते बात कर रही थी महिला, धमाके के साथ फटा मोबाइल; डिवाइडर से टकराकर मौत

फर्रुखाबाद से कानपुर आ रही महिला की जेब में पड़ा मोबाइल फटने से बाइक हाईवे पर फिसल गई। हेलमेट न लगे होने की वजह से सिर पर गंभीर चोट आने पर महिला ने मौके पर ही दम तोड़ दिया। हादसा बुधवार शाम चौबेपुर के मानपुर के पास हाईवे पर पेट्रोल पंप के सामने हुआ। महिला नासिक के रोडवेज में क्लर्क थी। वह बाइक चलाकर कानपुर सेंट्रल स्टेशन आ रही थी। उसे ट्रेन से नासिक जाना था।
फर्रुखाबाद के मोहम्मदाबाद थाना क्षेत्र के गांव नहरैया निवासी योगेंद्र ने बताया कि उनकी 29 वर्षीय पत्नी पूजा नासिक रोडवेज में क्लर्क थी। बुधवार सुबह 11:00 बजे वह नहरैया से टीवीएस बाइक से कानपुर स्टेशन जाने के लिए निकली थी l वह बाइक को भी रेलवे डाक पार्सल के माध्यम से महाराष्ट्र के नासिक ले जाना चाहती थी।

चौबेपुर इंस्पेक्टर रविंद्र कुमार श्रीवास्तव ने अनुसार प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि मानपुर के पास महिला बाइक से जा रही थी। कुर्ते की जेब में मोबाइल और कान में ईयर लीड लगी थी। तभी अचानक मोबाइल फट गया। धमाके से बाइक अनियंत्रित होकर फिसल गई। हेलमेट न पहने होने के कारण पूजा के सिर पर गंभीर चोट आ गई। जबतक पुलिस पहुंचती महिला की सांसें थम चुकी थी। मृतका पूजा की पांच वर्षीय पुत्री वेदिका और दो वर्षीय पुत्र कबीर है।

हैंडल पर टंगा था हेलमेट

चौबेपुर इंस्पेक्टर के अनुसार घटनास्थल पर मोबाइल फोन फटा पड़ा मिला है। महिला ने हेलमेट बाइक के हैंडल पर टांग रखा था। यदि वह हेलमेट पहने होती तो उसकी जान बच सकती थी। शव को मर्चरी में रखवाया गया है। पुलिस की सूचना पर परिजन फर्रुखाबाद से चौबेपुर के लिए निकल गए।

हादसे की सूचना पर मचा कोहराम

इधर, हादसे में पूजा की मौत की सूचना पर नहरैया गांव में हड़कंप मच गया। किसान पति योगेंद्र ने बताया कि पूजा नासिक में अकेली रहकर नौकरी करती थी। बच्चों को यहां दादी पाल रहीं थीं। जब भी छुट्टी मिलती थी तो वह गांव आ जाती थी। कुछ दिन पहले ही घर आई थी। नासिक में पूजा का दफ्तर घर से काफी दूर था, वह बाइक चला लेती थी। इस कारण वह बाइक को नासिक ले जाना चाहती थी। कानपुर सेंट्रल से डाक पार्सल के जरिए बाइक को नासिक ले जाने वाली थी।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *