अपराधउत्तर प्रदेशराज्य

पबजी खेलते-खेलते शादीशुदा महिला को हुआ प्यार, धर्म परिवर्तन और फिर निकाह, अब खुदकुशी की कोशिश के बाद कोमा में है जिंदगी

पबजी खेलते हुए मुंबई की लड़की को मुरादाबाद के मुस्लिम युवक से हुआ प्यार, धर्म परिवर्तन कर मुरादाबाद के फुजेल से किया निकाह, प्यार की खातिर हर्षदा बनी जीनत फातिमा, पति और उसके परिवार से नोकझौंक के बाद हर्षदा उर्फ जीनत फातिमा ने उठाया आत्मघाती कदम , गंभीर हालत में निजी अस्पताल में भर्ती , पुलिस ने किया फुजैल और उसके पिता के खिलाफ मुकदमा दर्ज.

मजहब परिवर्तन करवाकर कर लिया निकाह

मुंबई की हर्षदा को पब्जी खेलते खेलते मुरादाबाद के फुजैल से प्यार हो गया. प्यार का नशा इस कदर चढ़ा कि वो घर छोड़कर उसके साथ भागकर मुरादाबाद आ गई. इसके बाद उसने अपना धर्म परिवर्तन कर नाम जीनत फातिमा रख लिया और फिर फुजैल से निकाह भी कर लिया.

निकाह के कुछ दिनों बाद ही फुजैल ने दिखा दिया रंग

इसके बाद दोनों मुरादाबाद के गलशहीद थाना क्षेत्र में किराए के मकान में रहने लगे. कुछ ही वक्त बाद प्यार का ये भूत उतर गया और दोनों में लड़ाई झगड़े होने लगे. एक दिन परेशान होकर हर्षदा उर्फ जीनत ने फांसी का फंदा लगा लिया लेकिन गनीमत रही कि उसकी जान बच गई. हालांकि अभी भी वो अस्पताल में भर्ती है और जिंदगी- मौत के बीच जूझ रही है.

मुरादाबाद के निजी अस्पताल में आईसीयू में वेंटिलेटर पर उसका इलाज जारी है. पीड़िता का इलाज कर रहे डॉक्टर मयंक का भी कहना है कि उसकी हालत नाजुक है. वह कोमा से तो बाहर है लेकिन उसको कोई सुधबुध नहीं है. वह कब तक ठीक हो पाएगी, इस बारे में कुछ भी स्पष्ट नहीं बताया जा सकता.

पबजी गेम में फ्रेंड रिक्वेस्ट भेजकर फंसाया

पीड़िता की मां माधुरी मिश्रा का कहना है कि वह घाटकोपर मुंबई की रहने वाली हैं. उनकी बेटी हर्षदा की पहली शादी के बाद तलाक हो गया था, जिससे वह डिप्रेशन में चली गई थी. उसी दौरान वह पबजी खेलने के चक्कर में पड़ी मोहम्मद फुजेल के संपर्क में आई. फुजेल ने उसे फ्रेंड रिक्वेस्ट भेजकर दोस्ती गांठी थी.

पीड़िता की मां के मुताबिक उनकी बेटी इवेंट कंपनी में जॉब करती थी, जिसके चलते लड़की उस लड़के के चक्कर में पड़ गई. इसके बाद दोनों में बातचीत होने लगी. मां के मुताबिक करीब एक महीने तक उन्होंने बेटी को खूब समझाया और इस बेतुकी दोस्ती को तोड़ने को कहा लेकिन वह नहीं मानी और एक दिन घर छोड़कर उसके साथ चली गई.

दिमाग में ऑक्सीजन न पहुंचने से कोमा में पहुंची

इसके बाद हर्षदा फुजेल के साथ ट्रेन में बैठकर मुरादाबाद पहुंची, जहां 28 मार्च को उसका मजहब परिवर्तन करवाकर निकाह कर लिया गया. इस जबरदस्ती निकाह के 4 दिन बाद फुजेल ने उन्हें फोन करके बताया कि जीनत ने फांसी लगाने की कोशिश की है लेकिन टेंशन की बात नहीं है और वह ठीक हो रही है.

इस खबर को सुनने के बाद वह मुंबई से आई तो देखा कि बेटी अस्पताल में कोमा में पड़ी है. डॉक्टर भी कह चुके हैं कि अगर वे बेटी को ले जाना चाहें तो ले जा सकते हैं. इसके बाद मुरादाबाद पुलिस में मामला दर्ज करवाया गया. फुजैल मुंबई के रेड लाइट एरिया में खाना पहुंचाने का काम करता था.

पुलिस ने आरोपी के खिलाफ दर्ज किया केस

पीड़ित मां की शिकायत पर पुलिस ने फुजैल और उसके पिता के खिलाफ आईपीसी की धारा 323, 504, 306, 511 में नामजद मुकदमा दर्ज कर लिया है. एसपी सिटी अखिलेश भदौरिया ने बताया है कि मामले की जांच चल रही है. इस प्रकरण में जो भी तथ्य सामने आएंगे, उसके आधार पर आगे की कार्रवाई सुनिश्चित की जाएगी.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *