अपराधउत्तर प्रदेशराज्य

सड़क हादसे में नर्स की मौत, बदहवास पति ने फांसी लगाकर दे दी जान, हरदोई में दर्दनाक घटना

हरदोई: जिले में एक पत्नी की मौत से आहत होकर युवक ने आत्महत्या कर ली। मामले की सूचना मिलते ही इलाके में मातम पसर गया। पूरा मामला थाना सुरसा क्षेत्र का बताया जा रहा है। यहां के योगेश (25) पुत्र पुत्तू लाल की शादी करीब तीन माह पहले कोतवाली शहर के मोहल्ला धन्नूपुरवा की रहने वाली मणिकर्णिका गौतम के साथ हुई थी। मणिकर्णिका गौतम टड़ियावां सीएचसी में स्टाफ नर्स के पद पर तैनात थी। वहीं योगेश पिहानी ब्लॉक के प्राथमिक विद्यालय टीकमपुर में सहायक अध्यापक के पद पर तैनात था।

एक्सीडेंट में हुई पत्नी की मौत

जानकारी के अनुसार सोमवार की सुबह दाउदपुर से पहले योगेश स्कूल के लिए बाइक से निकला था। उसके कुछ ही देर बाद मणिकर्णिका अपनी स्कूटी से सीएचसी के लिए निकली हुई थी। पचकोहरा चौराहा के पास मणिकर्णिका पहुंची, तभी किसी अज्ञात तेज रफ्तार वाहन ने उसे कुचल दिया और फरार हो गया। इस हादसे में मणिकर्णिका की मौके पर ही मौत हो गई। वहीं उसके पति योगेश को जब स्कूल में हादसे के बारे में पता चला तो योगेश वहां से किसी को बना कुछ बताए बाइक से वापस लौट आया।

पंखे से फांसी लगाकर पति ने दी जान

कुछ देर बार पता चला कि योगेश ने घर पहुंच कर फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। सड़क हादसे का शिकार हुई स्टाफ नर्स मणिकर्णिका जहां अपने घर की इकलौती बेटी थी, वहीं योगेश भी अपने घर वालों का इकलौता बेटा था। बेटी की मौत की खबर से उसके मायके में चीख-पुकार मची रही। वहीं कुछ देर बाद जब उसके पति योगेश की आत्महत्या की खबर पहुंची तो हर तरफ मातम छा गया।

शवों का पोस्टमार्टर करा रही पुलिस

वहीं पूरे मामले के बारे में जानकारी देते हुए एडिशनल एसपी पूर्वी नृपेंद्र ने बताया कि एक्सीडेंट में स्टाफ नर्स की मौत हो गई थी। पुलिस मामले में उचित कार्रवाई कर रही थी। इसके कुछ देर बाद पत्नी की मौत से आहत पति योगेश ने भी घर पहुंच कर पंखे से लटक कर आत्महत्या कर ली। फिलहाल पोस्टमार्टम कराकर अग्रिम कार्रवाई की जा रही है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *