खेलमनोरंजन

‘मैं छाती ठोक के कहता हूं, गेंद नो बॉल थी…’ विराट के विकेट पर भड़के पूर्व दिग्गज

केकेआर के खिलाफ विराट कोहली के आउट होने पर नवजोत सिंह सिद्धू का रिएक्शन सामने आया है। सिद्धू ने कहा है कि छाती ठोककर कहता हूं कि यह नॉट आउट था। उन्होंने कहा कि विराट कोहली को आउट नहीं दिया जाना चाहिए था। सिद्धू ने कहा कि रूल्स बदल चुके हैं और जो गेम के हित में होता है, वही नियम होता है। उन्होंने आगे कहा कि गेंद का इंपैक्ट भी देखा जाना चाहिए। गौरतलब है कि हर्षित राणा की कमर तक ऊंचाई पर आई गेंद पर विराट कोहली आउट हो गए थे। इसके बाद कोहली ने इसका रिव्यू लिया था, लेकिन अंपायर ने अपने फैसले में इस गेंद को नो बॉल नहीं माना था। इसके बाद विराट कोहली काफी ज्यादा नाराज हुए थे और जाते-जाते अंपायर से बहस भी की थी।

वह एक बीमर थी

नवजोत सिंह सिद्धू ने स्टार स्पोर्ट्स पर कमेंट्री के दौरान कहा कि पहली बात तो वह एक बीमर थी। आमतौर पर जब गेंदबाज बीमर डालता है तो वह बल्लेबाज से सॉरी बोलता है। अगर प्वॉइंट ऑफ इंपैक्ट की बात करें यह कमर से करीब डेढ़ फीट ऊपर थी। सिद्धू ने कहा कि यह रूल बदला जाना चाहिए। एक ही डिसीजन ने इस गेम के रंग में भंग डाल दिया। उन्होंने कहा कि कोहली ने प्वॉइंट ऑफ इंपैक्ट पर गेंद से नजरें हटा ली हैं। वह भौंचक्का रह गया है। पूर्व भारतीय दिग्गज ने कहा कि यह पूरी तरह से नॉट आउट है। इसमें अंपायर को चाहिए था कि वह एक बार कप्तान की तरफ देखता।

धोनी का दिया उदाहरण

इसके आगे सिद्धू ने धोनी का उदाहरण दिया है। उन्होंने कहा कि मैंने देखा है कि धोनी ने चलते टेस्ट मैच में इयान बेल को बुलाया था। इसके बाद इयान बेल ने 200 रन बनाए, लेकिन धोनी को इस फैसले के लिए खेल भावना का अंतर्राष्ट्रीय पुरस्कार दिया गया था। सिद्धू ने कहा कि मैं आपको ऐसे दस उदाहरण दे सकता हूं। शेरी ने कहा कि तुम बीमर मारकर कोहली को आउट करोगे और चाहोगे कि सिद्धू इसका इस्तेकबाल करेगा। छाती ठोककर कहता हूं कि वह नॉटआउट था।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *