राष्ट्रिय

नेहा मर्डर केस: लव जिहाद पर बोलीं फैयाज की मां- एक दूसरे से करते थे प्यार, IAS बनाना चाहती थी!

कर्नाटक के हुबली में कांग्रेस नेता निरंजन हिरेमथ की बेटी नेहा मर्डर केस का मामला अब पूरे देश में चर्चा का विषय बना हुआ है. इसी बीच नेहा के परिवार ने लव जिहाद बताया है. जी न्यूज से बातचीत में नेहा के परिवार ने फैयाज पर कई आरोप लगाए हैं. नेहा के परिवार ने कहा कि शादी की बात झूठी है और ये लव जिहाद है. उन्होंने यह भी कहा कि फैयाज की बहन भी उस पर दबाव बनाती थी.

इससे पहले खुद नेहा के पिता ने भी इस पर प्रतिक्रिया दी थी. उन्होंने इन आरोपों पर कड़ी प्रतिक्रिया व्यक्त की थी कि फैयाज और नेहा शादी करना चाहते थे. इस संबंध में नेहा के पिता निरंजन हिरेमथ ने आरोपों को सिरे से खारिज कर दिया. उन्होंने कहा कि शादी की कोई बात नहीं थी. अब कहानी बनाई और बताई जा रही है. आरोपी ने शायद मेरी बेटी से शादी करने की सोची होगी.

‘एक साहसी और बुद्धिमान लड़की’

उन्होंने कहा कि मेरी बेटी नेहा ने इसके बारे में कभी नहीं सोचा था और अगर वह सहमत होती तो उसे इस दुखद तकदीर का सामना नहीं करना पड़ता. वहीं नेहा की मां गीता ने कहा कि उनकी बेटी एक साहसी और बुद्धिमान लड़की थी. हत्यारे के साथ उसके रिश्ते के बारे में सब कुछ झूठ है. हमारी बेटी की आत्मा को तभी शांति मिलेगी जब हत्यारे को फांसी दी जाएगी.

शरीर पर चाकू से 7 वार..

मालूम हो कि यह पूरा मामला तब हुआ जब कर्नाटक के हुबली स्थित बीवीबी कॉलेज कैंपस में गुरुवार 18 अप्रैल को कांग्रेस पार्षद निरंजन हिरेमथ की 23 साल की बेटी नेहा हिरेमथ की चाकू मारकर हत्या कर दी गई. नेहा MCA फर्स्ट ईयर की स्टूडेंट थीं. उसी कॉलेज के एक ड्रॉपआउट स्टूडेंट फैयाज खोंडुनाईक (23) ने नेहा के गले, पेट सहित शरीर पर चाकू से 7 वार किए. फैयाज ने पूछताछ के दौरान बताया कि नेहा उसके साथ रिलेशनशिप में थी. कुछ दिनों से अचानक वह उससे दूर रहने लगी थी. इसलिए उसने घटना को अंजाम दिया.

कर्नाटक सरकार ने क्या कहा.. 

उधर कर्नाटक की कांग्रेस सरकार ने एमसीए छात्रा नेहा हीरेमथ की हत्या के मामले में लोगों के आक्रोश को देखते हुए अपनी तरफ से प्रयास शुरू किए हैं. उपमुख्यमंत्री डी.के. शिवकुमार ने शनिवार को कहा कि मुझे बताया गया कि यह निजी मामला है. लेकिन कानून के मुताबिक आरोपियों पर सख्त कार्रवाई की जाएगी और घटना में शामिल किसी को भी बख्शा नहीं जाएगा.

‘लव जिहाद’ का मामला..

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष शिवकुमार ने कहा है कि हमने मंत्रियों से पीड़ित परिवार से मिलने के लिए कहा है. किसी को भी छोड़ा नहीं जाएगा. अल्पसंख्यक नेताओं ने भी इस बारे में बात की है. कानून के मुताबिक सजा दी जाएगी. हत्या के कथित तौर पर ‘लव जिहाद’ का मामला होने के बारे में पूछे जाने पर, शिवकुमार ने कहा कि वह किसी और द्वारा दिए गए बयान की व्याख्या नहीं कर सकते.

महिला एवं बाल कल्याण मंत्री लक्ष्मी हेब्बालकर ने शनिवार को मृतका के घर जाकर संवेदना व्यक्त की. इस दौरान लड़की के पिता निरंजन हिरेमथ फूट-फूट कर रोने लगे और हत्यारे को कड़ी सजा देने की गुहार लगाई. मंत्री ने कहा कि मैंने लड़की के माता-पिता को आश्वासन दिया है कि समुदाय और मैं परिवार के साथ हैं. हम उनकी बेटी को न्याय दिलाएंगे. निष्पक्ष जांच होगी. यह एक जघन्य कृत्य है. इस तरह की घटनाओं को रोका जाना चाहिए. पुलिस को जांच में खुली छूट दी जाएगी.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *