उत्तर प्रदेशराजनीतिराज्य

8 केंद्रीय मंत्री, 2 पूर्व CM, एक पूर्व राज्यपाल… पहले चरण में इन VVIP नेताओं की किस्मत EVM में कैद

उत्तर प्रदेश में लोकसभा चुनाव के पहले चरण के मतदान के साथ कई सियासी दिग्गजों की किस्मत ईवीएम में बंद हो जाएगी. इस चरण में 21 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों की 102 सीटें शामिल हैं, जिसमें से वीवीआईपी सीटों की संख्या बहुत बड़ी है.

पहले चरण में जिन वीवीआईपी सीटों पर सबकी नजर टिकी हुई है. उसमें से यूपी की सहारनपुर, कैराना, मुजफ्फरनगर, बिजनौर, नगीना (सु.), मुरादाबाद, रामपुर, पीलीभीत सीट शामिल है. एनडीए की तरफ से सात सीटों पर बीजेपी और एक सीट पर रालोद का प्रत्याशी है. वहीं ‘इंडिया’ गठबंधन ने आठ में से सात सीटों पर सपा और एक सीट पर कांग्रेस का प्रत्याशी उतारा. इसके लिए इन 8 सीटों पर बसपा ने अपने मजूबत प्रत्याशी उतारे हैं.

इन सीटों पर है लोगों की नजर 

पहले चरण के चुनाव में इन सीटों पर जिन वीवीआईपी नेताओं की साख दांव पर लगी है. उसमें एनडीए और कांग्रेस की अगुवाई वाले इंडिया गठबंधन बसपा के की दिग्गज नेता शामिल हैं,  जिनके भाग्य का फैसला आज मतदाताओं द्वारा कर दिया जाएगा और इनकी किस्मत ईवीएम में कैद हो जाएगी.

यूपी की इन वीवीआईपी सीटों पर प्रत्याशियों के नाम

सहारनपुर सीट पर बीजेपी ने राघव लखनपाल को अपना प्रत्याशी बनाया है तो वहीं कांग्रेस के उम्मीदवार इमरान मसूद चुनावी मैदान में हैं. इसके साथ ही बसपा ने यहां से माजिद अली को उम्मीदवार बनाया है. कैराना सीट पर बीजेपी ने प्रदीप कुमार, सपा ने इकरा हसन और कांग्रेस ने माजिद अली को टिकट दिया है.

वहीं मुजफ्फरनगर में बीजेपी ने केंद्रीय मंत्री संजीव बालियान को तीसरी बार मौका दिया है, अखिलेश यादव की पार्टी सपा ने हरेंद्र मलिक और बसपा ने दारा सिंह प्रजापति पर दांव लगाया है. इसके साथ ही बिजनौर सीट गठबंधन के तहत रालोद के खाते में आई है, जिस पर रालोद ने अपने विधायक चंदन चौहान को चुनावी मैदान में उतारा है. बिजनौर सीट पर सपा ने दीपक सैनी और बसपा ने चौधरी विजेंद्र सिंह को टिकट दिया है.

इसके साथ ही नगीना सीट पर ने बीजेपी ने ओमकुमार, सपा ने मनोज कुमार और बसपा ने सुरेंद्र पाल सिंह को उतारा है. वहीं भीम आर्मी चीफ और आजाद समाज पार्टी के मुखिया चंद्रशेखर आजाद भी इस सीट से चुनाव लड़ रहे हैं जिनके मैदान में आने से मकुबला त्रिकोणीय माना जा रहा है.

मुरादाबाद सीट पर सपा ने रुचि वीरा को उम्मीदवार बनाया है और बीजेपी ने सर्वेश सिंह, बसपा ने इरफान सैफी को अपना प्रत्याशी बनाया है. वहीं रामपुर सीट पर बीजेपी ने मौजूदा सांसद घनश्याम लोधी पर दांव लगाया है. सपा ने रामपुर सीट पर दिल्ली के इमाम मोहिबुल्ला नदवी पर दांव लगाया है और बसपा ने जीशान खान को रामपुर से टिकट दिया है.

पीलीभीत सीट से बीजेपी ने वरुण गांधी का टिकट काट कर यूपी सरकार के पीडब्ल्यूडी मंत्री जितिन प्रसाद को उम्मीदवार बनाया है. वहीं सपा ने इस सीट पर भगवत सरन गंगवार को चुनावी मैदान में उतारा है. इसके साथ ही पीलीभीत में बसपा ने अनीस अहमद खां उर्फ फूलबाबू पर दांव लगाया है.

आज यानी 19 अप्रैल को लोकसभा चुनाव के पहले चरण का मतदान पूरा होने के बाद लोगों की निगाहें बीजेपी, सपा-कांग्रेस अलायन्स प्रत्याशी और बहुजन समाज के प्रत्याशियों पर होगी. पहले चरण के मतदान होने पर जिन वीवीआईपी सीटों पर लोगों की नजर टिकी हुई है, उसमें से यूपी की कैराना, मुजफ्फरनगर, मुरादाबाद, रामपुर, पीलीभीत सीट शामिल है. इन सीटों के प्रत्याशियों के ऊपर लोगों की नजरें टिकी हुई हैं.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *