अपराधउत्तर प्रदेशराज्य

शैलेन्द्र के प्यार में पड़ी सऊदी में रहने वाले शख्स की बीवी माहे निगार; धर्म बना दीवार तो उठाया ये खौफनाक कदम

रुदौली (अयोध्या) : मवई थाना क्षेत्र के पकड़िया गांव में गुरुवार को एक साथ प्रेमी युगल का अंतिम संस्कार हुआ। एक साथ जीने मरने के कसम खाने वाले प्रेमी युगल का शव गांव पहुंचते ही पूरे गांव में सन्नाटा पसर गया। दोनों के अलग-अलग समुदाय से होने के कारण सीओ आशीष निगम सहित मवई, पटरंगा, बाबाबाजार व रुदौली के थानाध्यक्षों व भारी पुलिस बल की मौजूदगी में अंतिम संस्कार कराया गया।

पकड़िया गांव निवासी 25 वर्षीय शैलेंद्र कुमार दुबे का गांव की 23 वर्षीय युवती माहे निगार से काफी दिनों से प्रेम प्रसंग चल रहा था। बुधवार की शाम को दोनों एक साथ गांव से निकले। गुरुवार की सुबह दोनों का शव बाराबंकी जिले के मसौली थाना क्षेत्र में रेलवे ट्रैक पर मिला।

दोनों ने ट्रेन के आगे कूद कर आत्महत्या कर ली। रेलवे ट्रैक से लगभग 50 मीटर दूर पर मृतक की बाइक खड़ी थी। बाराबंकी के जीआरपी प्रभारी निरीक्षक देवेंद्र कुमार द्विवेदी ने बताया कि कैफियत डाउन के चालक ने दरियाबाद स्टेशन पर ट्रेन के सामने युवक व युवती के छलांग लगाने की घटना का मेमो दर्ज कराया है। बाराबंकी से सूचना गांव आते ही हर कोई हतप्रभ रह गया। दोपहर बाद दोनों के शव गांव पहुंचे।

शोक में बदलीं शादी की खुशियां

मृत युवक के चाचा हरिशरण दुबे ने बताया कि शैलेंद्र की शादी तय थी, जबकि युवती की शादी हो चुकी थी। गुरुवार को ही शैलेंद्र का तिलकोत्सव होना था। घर पर सभी तैयारियां पूर्ण हो चुकी थीं। दोनों एक दिन पहले शाम को दवा लेने के बहाने गांव से निकले थे। युवती का विवाह अमेठी जिले में हो चुका है और उसका पति सऊदी अरब कमाने गया है। संभावना जताई जा रही है कि जुदा होने के डर से दोनों ने आत्महत्या कर मौत को गले लगाया।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *