अपराधदिल्ली/एनसीआरनई दिल्ली

Arvind Kejriwal in Tihar: तिहाड़ जेल में 6 लोगों से मिल सकेंगे केजरीवाल, पत्नी और बच्चों समेत लिस्ट में हैं ये नाम

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को 15 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है। वह सोमवार शाम करीब 4 बजकर 10 मिनट पर तिहाड़ पहुंचे। अगले 14 दिन केजरीवाल जेल नंबर 2 में रहेंगे। अरविंद केजरीवाल जेल नंबर दो के एक सेल में अकेले रहेंगे जहां सीसटीवी से उनकी निगरानी होगी। इसके अलावा 24 घंटे स्पेशल क्यूआरटी टीम तैनात रहेगी। उधर केजरीवाल ने उन 6 लोगों के नाम दिए जिनसे वह रोज पांच मिनट कॉल कर सकते हैं। दरअसल एक विचाराधीन कैदी 10 लोगों के नाम दे सकते हैं। केजरीवाल ने अभी तक छह नाम दिए हैं। हालांकि इन 6 लोगों की लिस्ट में किसी भी कैबिनेट मंत्री का नाम शामिल नहीं है।

केजरीवाल ने जिन 6 लोगों के नाम दिए हैं उनमें  उनकी पत्नी सुनीता केजरीवाल, बेटा पुलकित, बेटी हर्षिता, ‘आप’ नेता संदीप पाठक, बिभव कुमार, एक करीबी शामिल है। केजरीवाल की ओर से अन्य 4 लोगों के नाम दिए जाने बाकी है। बताया जा रहा है कि इन 4 लोगों में उनकी लीगल टीम शामिल हो सकती है। इन सभी लोगों से हर रोज पांच मिनट फोन पर बात करने के अलावा केजरीवाल हफ्ते में दो बार वीडियो कॉल भी कर सकेंगे।

उधर अधिकारियों ने कहा कि केजरीवाल अपनी कोठरी में चौबीस घंटे सीसीटीवी कैमरे की निगरानी में रहेंगे और वह टीवी देख सकते हैं और किताबें पढ़ सकते हैं। उन्होंने कहा कि एशिया की सबसे बड़ी जेल में बंद होने वाले पहले मौजूदा मुख्यमंत्री केजरीवाल को जेल नंबर 2 में रखा गया है और अदालत के आदेश के अनुसार उन्हें घर का बना खाना दिया जाएगा।

दो किताबें, धार्मिक लॉकेट, केजरीवाल को मिली किस किस चीज की इजाजत?

केजरीवाल को जो किताबें दी जाएंगी उनमें हिंदू महाकाव्य रामायण और महाभारत और ‘हाऊ प्राइममिनिस्टर्स डिसाइड’ शामिल हैं। उन्हें एक धार्मिक लॉकेट पहनने की भी अनुमति होगी। केजरीवाल ने छह लोगों की सूची दी है जिनसे वह नियमानुसार मिलना चाहेंगे। इस सूची में उनकी पत्नी सुनीता केजरीवाल, उनके बेटे और बेटी, उनके निजी सचिव बिभव कुमार और आम आदमी पार्टी (आप) महासचिव (संगठन) संदीप पाठक शामिल हैं।

केजरीवाल को 21 मार्च को प्रवर्तन निदेशालय ने आबकारी नीति से जुड़े धनशोधन मामले में गिरफ्तार किया था और वह 10 दिनों तक उसकी हिरासत में रहे। प्रवर्तन निदेशालय की हिरासत खत्म होने के बाद उन्हें विशेष न्यायाधीश कावेरी बावेजा की अदालत में पेश किया गया। ईडी ने उनकी 15 दिन की न्यायिक हिरासत का अनुरोध करते हुए कहा कि उन्होंने “बिल्कुल भी सहयोग नहीं किया।’’ अदालत ने ईडी की याचिका मंजूर कर ली।

जेल के एक अधिकारी ने कहा, “उन्हें (केजरीवाल) तिहाड़ जेल लाया गया और उन्हें जेल नंबर 2 में रखा जाएगा। उनकी मेडिकल जांच की गई। बाद में उन्हें उस कोठरी में भेज दिया गया जहां वह अकेले रह रहे हैं।” अधिकारी ने कहा कि केजरीवाल का ‘शुगर लेवल’ थोड़ा कम है और जेल चिकित्सकों की सलाह पर उन्हें दवाएं दी गई हैं।

इससे पहले, केजरीवाल को दो बार गिरफ्तार किया गया था और तिहाड़ जेल भेजा गया था: पहली बार 2012 में अन्ना हजारे द्वारा चलाए गए भ्रष्टाचार रोधी आंदोलन के दौरान, जब उन्हें कई अन्य प्रदर्शनकारियों के साथ गिरफ्तार किया गया था और जेल नंबर 1 में रखा गया था; दूसरा 2014 में नितिन गडकरी द्वारा दायर मानहानि के मामले में जब उन्हें जेल नंबर 4 में रखा गया था।

जेल नंबर 2 में दोषियों को रखा जाता है और वर्तमान में इस जेल में 600 दोषी और 50 विचाराधीन कैदी बंद हैं। सूत्रों ने बताया कि अंडरवर्ल्ड डॉन छोटा राजन, नीरज बवाना जैसे गैंगस्टर भी किसी समय इस जेल के उच्च सुरक्षा वाले वार्ड में थे। केजरीवाल की कोठरी में सीसीटीवी कैमरा लगा है और उन पर 24 घंटे नजर रखी जाएगी। जेल नियमावली के अनुसार, अन्य कैदियों की तरह उनकी कोठरी और वार्ड में एक टेलीविजन भी प्रदान किया गया है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *