व्यापार

इंश्योरेंस, ATM कार्ड से लेकर इलेक्ट्रिक व्हीकल तक, आज से बदल रहे हैं ये नियम, जानें पूरी डिटेल

वित्त वर्ष 2024-25 की शुरुआत आज से होने जा रही है. नए वित्त वर्ष में आपको कई सारे नए नियमों का सामना करना पड़ेगा. ये सभी नियम आपके जीवन पर सीधा असर डालने वाले हैं. आइए एक नजर इन सभी नए नियमों पर डाल लेते हैं.

ईपीएफओ अकाउंट ट्रांसफर 

नए वित्त वर्ष में अगर कोई कर्मचारी नौकरी बदलता है तो उसका कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (EPFO) अकाउंट खुद ब खुद नई कंपनी में ट्रांसफर हो जाएगा. अभी तक कर्मचारी को अकाउंट ट्रांसफर करने की रिक्वेस्ट देनी पड़ती थी.

न्यू टैक्स रिजीम के डिफॉल्ट होने पर भी आपकी पसंद के टैक्स सिस्टम चुनने की आजादी

नए वित्त वर्ष में न्यू टैक्स रिजीम डिफॉल्ट टैक्स सिस्टम बन गया है लेकिन ये अनिवार्य नहीं है. इसलिए आपको टैक्स रिटर्न भरते समय ध्यान देना होगा. अगर आपने इनकम टैक्स रिटर्न भरते समय ओल्ड टैक्स रिजीम को चुना है तो आप अपने आप ही आप न्यू टैक्स रिजीम में नहीं आने वाले हैं.

केवाईसी न होने पर नहीं चलेगा फास्टैग

यदि आपने 31 मार्च तक फास्टैग केवाईसी को अपडेट नहीं किया था तो टोल पेमेंट मुश्किल हो जाएगा. आपके फास्टैग को आज से निष्क्रिय कर दिया जाएगा.

एनपीएस अकाउंट लॉगिन रूल 

एनपीएस अकाउंट में लॉगिन के नियम आज से बदल गए हैं. अब आपको एनपीएस अकाउंट में लॉगिन करने के लिए आईडी पासवर्ड के साथ ही आधार से जुड़े मोबाइल नंबर पर आए ओटीपी को भी दर्ज करना होगा.

एसबीआई डेबिट कार्ड मेंटेनेंस फीस बढ़ी 

एसबीआई डेबिट कार्ड की सालाना मेंटेनेंस फीस आज से बढ़ गई है. साथ ही एसबीआई क्रेडिट कार्ड से रेंट पेमेंट करने पर मिलने वाले रिवार्ड प्वाइंट भी आज से नहीं मिलेंगे.

इन कार्ड पर एयरपोर्ट लाउंज एक्सेस

आईसीआईसीआई बैंक आज से कॉम्प्लीमेंट्री एयरपोर्ट लाउंज एक्सेस शुरू कर रहा है. यह सुविधा उन लोगों को मिलेगी, जो क्रेडिट कार्ड से एक तिमाही में 35 हजार रुपये तक खर्च करेंगे. यस बैंक भी एक तिमाही में 10 हजार रुपये खर्च करने पर घरेलू एयरपोर्ट पर लाउंज एक्सेस देगा.

इंश्योरेंस पॉलिसी सरेंडर के नियम 

आज से इंश्योरेंस पॉलिसी सरेंडर करने के नियम भी बदल गए हैं. अब सरेंडर वैल्यू इस बात पर निर्भर करेगी कि आपने कितने सालों में पॉलिसी को सरेंडर किया है.

महंगी हो जाएंगी दवाएं 

एक अप्रैल से कई दवाओं की कीमत बढ़ गई है. ड्रग प्राइस रेगुलेटर ने नेशनल लिस्ट ऑफ एसेंशियल मेडिसिन (NLEM) के तहत कुछ जरूरी दवाओं जैसे पेन किलर, एंटीबायोटिक्स और संक्रमण रोधी दवाओं की कीमतें बढ़ा दी हैं.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *