खेलमनोरंजन

वही अंदाज.. वही छक्के… जीत नहीं पाई चेन्नई लेकिन खुश कर गए धोनी

विशाखापत्तनम: आईपीएल 2024 में दिल्ली कैपिटल्स का खाता खुल गया है। डॉ. वाई.एस. राजशेखर रेड्डी एसीए-वीडीसीए क्रिकेट स्टेडियम पर खेलते गए मुकाबले में दिल्ली कैपिटल्स ने चेन्नई सुपर किंग्स को 20 रन से हराया। दिल्ली की पहली जीत के साथ ही चेन्नई की यह सीजन में पहली हार है। टॉस जीतने के बाद पहले खेलते हुए दिल्ली ने 5 विकेट पर 191 रन बनाए। चेन्नई की शुरुआत खराब रही और पूरी कोशिश के बाद भी टीम 6 विकेट पर 171 रन ही बना सकी। सीजन में पहली बार बैटिंग करने उतरे धोनी ने 16 गेंद पर 37 रन बनाए। दिल्ली ने 2021 सीजन के बाद चेन्नई को हराया है।

ओपनर्स के साथ पंत चमके

दिल्ली कैपिटल्स ने डेविड वॉर्नर (52 रन) और पृथ्वी शॉ (43 रन) के बीच पहले विकेट के लिए 93 रन की साझेदारी के बाद कप्तान ऋषभ पंत (51 रन) के अर्धशतक की मदद से बड़ा स्कोर बनाने में सफल रही। पंत की 32 गेंद की अर्धशतकीय पारी आकर्षण का केंद्र रही जिसमें चार चौके और तीन छक्के जड़े थे। फॉर्म में चल रहे वॉर्नर ने 35 गेंद की पारी के दौरान पांच चौके और तीन छक्के जमाये। सीरीज का पहला मैच खेल रहे पृथ्वी ने एक बार फिर सभी को अपनी आक्रामक बल्लेबाजी की याद दिला दी। उन्होंने 27 गेंद में 43 रन की पारी में दो छक्के और चार चौके लगाये।

इससे पहले तुषार देशपांडे ने अपनी ‘वैरिएशन’का अच्छा इस्तेमाल करते हुए अपने पहले दो ओवर में सिर्फ आठ रन दिये जबकि पावरप्ले में अपने तीन ओवर डालने वाले दीपक चाहर पर दिल्ली के सलामी बल्लेबाजों ने खूब रन बटोरे। वॉर्नर ने दो बार उन पर लेग साइड पर दो चौके जमाये। पांचवें ओवर में दूसरे छक्के के बाद उन्होंने दो चौके जड़े जिससे दिल्ली की टीम ने इस ओवर में 18 रन बनाये। मुस्तफिजुर रहमान पर भी शॉ ने लगातार तीन चौके जड़े जिससे दिल्ली कैपिटल्स ने बिना विकेट गंवाये 62 रन बनाकर पावरप्ले में इस आईपीएल का अपना सर्वश्रेष्ठ स्कोर बनाया।

वॉर्नर ने 32 गेंद में अपना अर्धशतक पूरा किया। लेकिन मुस्तफिजुर रहमान ने सीएसके को पहला विकेट वॉर्नर के रूप में दिलाया जिनका शानदार कैच पाथिराना ने लपका। शॉ ने एक और छक्का जड़कर दिल्ली को 100 रन के पार कराया, पर अगली ही गेंद पर जडेजा ने उन्हें आउट कर दिया। दोनों सलामी बल्लेबाजों के आउट होने के बाद रन गति में गिरावट आयी। पाथिराना ने इसके बाद शानदार प्रदर्शन करते हुए मार्श के मिडिल स्टंप उखाड़े और फिर तीन गेंदों के अंतराल में ट्रिस्टन स्टब्स को आउट किया जिससे दिल्ली कैपिटल्स का स्कोर 15 ओवर में चार विकेट पर 134 रन हो गया। डेथ ओवर में पंत की बैटिंग ने दिल्ली को 191 रन तक पहुंचा दिया। पथिराना को तीन विकेट लिए।

पावरप्ले में ही हार गई थी सीएसके

चेन्नई सुपर किंग्स की शुरुआत बेहद खराब रही। कप्तान रुतुराज पहले ही ओवर में एक रन बनाकर खलील अहमद का शिकार बन गए। रचिन रविंद्र ने 2 रन बनाने के लिए 12 गेंदों का सामना किया। वह भी खलील का शिकार बने। 6 ओवर के बाद चेन्नई का स्कोर दो विकेट पर 32 रन था। टीम इससे पूरे मुकाबले में नहीं उबर पाई। अजिंक्य रहाणे और डैरेन मिचेल ने 68 रनों की साझेदारी बनाई। 26 गेंदों पर 34 रन बनाने वाले मिचेल को अक्षर पटेल ने आउट किया।

चेन्नई के लिए दोनों मैचों में कमाल की बैटिंग करने वाले शिवम दुबे भी जूझते रहे। 17 गेंद पर वह सिर्फ 18 रन बना पाए। अजिंक्य रहाणे अर्धशतक लगाने से चूक गए। उनके बल्ले से 30 गेंद पर 45 रन निकले। मुकेश कुमार ने लगातार दो गेंद पर रहाणे और समीर रिजवी (0) को वापस भेज दिया। 16वें ओवर में जब दुबे आउट हुए तो टीम को 23 गेंद पर 72 रन चाहिए थे। धोनी ने इसके बाद आकर विस्फोटक बैटिंग की। उन्होंने 16 गेंदों पर 4 चौके और 3 छक्कों की मदद से नाबाद 37 रन बनाए। हालांकि यह टीम को जीत दिलाने के लिए काफी नहीं था। 20 रन तो उन्होंने आखिरी ओवर में मारे जब टीम को जीत के लिए 41 रन चाहिए थे। दिल्ली के लिए मुकेश कुमार ने 3 जबकि खलील अहमद ने 2 विकेट लिए।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *