अपराधग्रेटर नोएडादिल्ली/एनसीआर

Seema Haider केस में आया नया मोड़, पाकिस्तानी पति ने पकड़ ली उसकी बड़ी गलती; मामला कोर्ट पहुंचते ही मिला पुलिस को नोटिस

पाकिस्तान से आई सीमा हैदर की जिंदगी जब भी सही चल रही होती है तो एकदम से ही कुछ ऐसा हो जाता है कि उन्हें काफी मुश्किलों का सामना करना पड़ जाता है। सीमा हैदर और सचिन की लव स्टोरी की शुरआत  PUBG खेलने के दौरान हुई थी, जिसके बाद दोनों को प्यार हो गया और फिर सीमा हैदर पिछले साल अपने चार बच्चों के साथ भारत आ गई थीं। लेकिन अब सीमा हैदर के पति गुलाम हैदर ने उन पर धोखाधड़ी का आरोप लगाते हुए एक बड़ा फैसला लिया है और ये मामला भी अब अदालत तक जा पहुंचा है। आइए आपको बताते हैं क्या है पूरा मामला…

पाकिस्तान की सीमा हैदर और भारत के सचिन मीना की शादी का मामला अब भी सुर्खियों में बना हुआ है। दरअसल, दोनों के बीच प्यार की शुरुआत पबजी खेलते हुए हुई थी, जिसके बाद सीमा कराची से अपने चार बच्चों को साथ लेकर भारत में अवैध तरीके से घुस आईं।

जहां सीमा हैदर इन दिनों अपनी शादीशुदा जिंदगी में काफी खुश नजर आ रही हैं। वहीं अब पाकिस्तान में बैठे उनके शौहर गुलाम हैदर ने उनके खिलाफ धोखाधड़ी का आरोप लगाते हुए अदालत का रुख किया।

बता दें कि उनके पति गुलाम हैदर ने भारतीय वकील मोमिन मलिक के जरिए अदालत में सीमा और सचिन के खिलाफ कानूनी कार्यवाही की मांग की है। वहीं उनके वकील ने सीआरपीसी की धारा 156 (3) के तहत आवेदन दायर किया, जो मजिस्ट्रेट को जांच का आदेश देने की अनुमति देता है।

गुलाम हैदर के वकील मोमिन मलिक का आरोप है कि पहले पति से तलाक लिए बिना ही शादी करना वैध नहीं है। वहीं अब उन्होंने ये दावा किया कि अदालत ने नोएडा पुलिस को नोटिस जारी कर 18 अप्रैल तक रिपोर्ट पेश करने को कहा है।

बता दें कि उनके पति गुलाम हैदर उनपर काफी ज्यादा भड़के हुए हैं और बच्चों को पाकिस्तान भेजने की मांग उठा रहे हैं। हालांकि उनका ये भी कहना है कि बच्चे भारत में सुरक्षित नहीं हैं।

वहीं सीमा हैदर और सचिन के वकील एपी सिंह ने कहा कि सीआरपीसी किसी पाकिस्तानी नागरिक को भारत में मामला दर्ज करने की अनुमति नहीं देती है। फिर उन्होंने आगे कहा कि सीमा ने हिंदू धर्म अपनाकर सचिन से शादी कर ली है। और पाकिस्तान में मौखिक तलाक (तीन तलाक) है जो उन्होंने पति गुलाम हैदर से कर लिया था।

बता दें कि सीमा हैदर और सचिन के वकील एपी सिंह ने गुलाम हैदर के वकील मोमिन मलिक के एप्लीकेशन को एक पब्लिसिटी स्टंट बताया है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *