दिल्ली/एनसीआरनई दिल्ली

सुनीता केजरीवाल ने लॉन्च किया ‘केजरीवाल को आशीर्वाद’ अभियान, वॉट्सऐप नंबर किया जारी; करना होगा ये काम

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की पत्नी सुनीता केजरीवाल (Sunita Kejriwal) ने शुक्रवार को एक व्हाट्सएप अभियान शुरू किया. उन्होंने लोगों से अपने पति का समर्थन करने की अपील की जो दिल्ली आबकारी नीति से जुड़े धनशोधन मामले में प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) की हिरासत में हैं.

सुनीता केजरीवाल ने एक डिजिटल प्रेस वार्ता में कहा कि उनके पति ने देश में ‘सबसे भ्रष्ट और तानाशाही ताकतों’ को चुनौती दी है. उन्होंने लोगों से अपने आशीर्वाद और प्रार्थनाओं के माध्यम से दिल्ली के मुख्यमंत्री का समर्थन करने को कहा है.

सुनीता केजरीवाल ने लॉन्च किया अभियान

उन्होंने एक वॉट्सऐप नंबर जारी कर कहा कि लोग आम आदमी पार्टी (आप) के राष्ट्रीय संयोजक के लिए अपने आशीर्वाद, प्रार्थनाएं या अन्य कोई संदेश भेज सकते हैं और वह अपने पति तक उन्हें पहुंचा देंगी. अरविंद केजरीवाल को ईडी ने धनशोधन मामले में 21 मार्च को गिरफ्तार किया था और बृहस्पतिवार को एक अदालत ने ईडी की उनकी हिरासत एक अप्रैल तक बढ़ा दी.

‘देशभक्ति उनके रोम-रोम में बसी है’

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की पत्नी सुनीता केजरीवाल ने कहा, ‘उन्होंने (अरविंद केजरीवाल) जो कुछ कोर्ट के सामने बोला उसके लिए बहुत हिम्मत चाहिए. पिछले 30 साल से मैं उनके साथ हूं. देशभक्ति उनके रोम-रोम में बसी है. आपने अरविंद केजरीवाल को अपना भाई, अपना बेटा कहा है. क्या इस लड़ाई में आप अपने भाई, अपने बेटे का साथ नहीं देंगे?’

व्हाट्सएप नंबर किया जारी

उन्होंने आगे कहा, ‘मैं आपको एक व्हाट्सएप नंबर(8297324624) दे रही हूं. आज से हम एक अभियान शुरू कर रहे हैं जिसका नाम है ‘केजरीवाल को आशीर्वाद’, इस व्हाट्सएप नंबर पर आप अपने अरविंद को आशीर्वाद भेज सकते हैं. आपका एक-एक मैसेज उन तक पहुंचेगा.’

आप नेता का बीजेपी पर हमला

वहीं, आप नेता और दिल्ली सरकार में मंत्री अतिशी ने कहा, ‘राउज एवेन्यू कोर्ट में जब कल अरविंद केजरीवाल की रिमांड पर बहस चल रही थी तो ईडी के वकील एड‍िशनल सॉल‍िस‍िटर जनरल राजू ने अनजाने में ईडी के असली धेय को कोर्ट और दुनिया के सामने रख दिया.’

अतिशी ने कहा, ‘ईडी के वकील ने कोर्ट में कहा कि हमें अरविंद केजरीवाल को कुछ दिन और हिरासत में रखने की जरूरत है क्योंकि उन्होंने हमें अपने फोन का पासवर्ड नहीं बताया है. यह वही ईडी है जिसने कहा था कि शराब नीति के निर्माण और कार्यान्वयन के समय अरविंद केजरीवाल ने जिस फोन का इस्तेमाल किया था वह उन्हें नहीं मिला. यह ईडी नहीं बल्कि भाजपा पासवर्ड चाहती है.’

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *