राष्ट्रिय

सुप्रिया श्रीनेत को कंगना रनौत पर अपमानजनक टिप्पणी पड़ी भारी, NCW ने लिया संज्ञान; EC से की कार्रवाई की मांग

लोकप्रिय बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना रनौत को भाजपा ने आगामी लोकसभा चुनाव के लिए उम्मीदवार बनाया है। उन्हें हिमाचल प्रदेश की मंडी लोकसभा सीट का टिकट दिया गया है। लेकिन, इसे लेकर कांग्रेस की वरिष्ठ नेता सुप्रिया श्रीनेत ने कंगना के खिलाफ कथित तौर पर बेहद अभद्र टिप्पणी कर दी। इससे राजनीतिक माहौल गरमा गया है। आशंका है कि लोकसभा चुनाव से ठीक पहले उठा यह विवाद कांग्रेस को भारी पड़ सकता है। उधर, राष्ट्रीय महिला आयोग ने भी इसे लेकर सख्त नाराजगी जताई है।

कंगना को लेकर सुप्रिया श्रीनेत ने क्या कहा था?

सुप्रिया श्रीनेत ने कथित तौर पर सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म इंस्टाग्राम पर एक पोस्ट किया था। इसमें कंगना रनौत की एक तस्वीर लगी हुई थी और कैप्शन में लिखा था ‘क्या भाव चल रहा है मंडी में कोई बताएगा कोई बताएगा’? हालांकि, मामला उछलने पर यह पोस्ट डिलीट कर दी गई। सुप्रिया ने दावा किया है कि यह पोस्ट किसी और व्यक्ति ने की थी जिसके पास उनके अकाउंट का एक्सेस था। जैसे ही इसका पता चला हमने अकाउंट रिपोर्ट करवा दिया। लेकिन आपको बता दें कि कंगना ने पहले ही इसका स्क्रीनशॉट ले लिया था, जिसे उन्होंने एक्स (पूर्व में ट्विटर) पर शेयर करते हुए सुप्रिया श्रीनेत के खिलाफ मोर्चा खोल दिया।

हर महिला गरिमा की हकदार होती है: कंगना

कंगना रनौत ने इस स्क्रीनशॉट के साथ एक पोस्ट करते हुए सुप्रिया श्रीनेत को निशान पर लिया। उन्होंने कांग्रेस नेता को संबोधित करते हुए लिखा कि पिछले 20 साल के दौरान एक कलाकार के तौर पर काम करते हुए मैंने हर वो किरदार अदा किया है जो महिलाओं के हो सकते हैं। फिल्मों में अपनी भूमिकाओं की बात करते हुए कंगना ने कहा कि मैंने ‘क्वीन’ में एक नादान लड़की से लेकर ‘धाकड़’ में सिडक्टिव जासूस का, ‘मणिकर्णिका’ में एक देवी से लेकर ‘चंद्रमुखी’ में दानव का और ‘रज्जो’ में एक वेश्या से लेकर ‘थलइवी’ में एक क्रांतिकारी नेता का किरदार निभाया है। उन्होंने कहा कि हर महिला अपनी गरिमा की हकदार होती है।

‘मंडी शहर का नाम बदनाम कर रही कांग्रेस’

एक अन्य पोस्ट में कंगना ने लिखा कि किसी युवक को टिकट मिलता है तो उसकी विचारधारा पर हमले किए जाते हैं। लेकिन जब किसी युवा महिला को टिकट मिलता है तो उसकी सेक्सुअलिटी पर हमला होता है। उन्होंने आरोप लगाया कि कांग्रेस के लोग एक छोटे से कस्बे के नाम का सेक्सुअलाइजेशन करने में लगे हुए हैं। मंडी को हर जगह सेक्सुअल कॉन्टेक्स्ट में इस्तेमाल किया जा रहा है और ऐसा इसलिए क्योंकि वहां से एक युवा महिला प्रत्याशी है। ऐसी मानसिकता दिखाने के लिए कांग्रेस के लोगों को शर्म आनी चाहिए। बता दें कि वह कांग्रेस के नेता एचएस अहीर के एक बेहद आपत्तिजनक कमेंट की बात कर रही थीं।

कंगना के समर्थन में राष्ट्रीय महिला आयोग

राष्ट्रीय महिला आयोग ने भी इस विवाद का संज्ञान लिया है। आयोग ने कांग्रेस से मांग की है कि सुप्रिया श्रीनेत और एचएस अहीर के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाए। इसके साथ ही आयोग ने भारतीय निर्वाचन आयोग से अनुरोध किया है कि वह भी कंगना को लेकर सुप्रिया श्रीनेत के बयान के मामले में एक्शन ले। आयोग ने कंगना रनौत को एक फाइटर बताते हुए कहा कि जो लोग असुरक्षित महसूस करते हैं वही ऐसे काम करते हैं।

पूनावाला ने उठा दी बर्खास्त करने की मांग

भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता शहजाद पूनावाला ने कहा कंगना रनौत के लिए सुप्रिया श्रीनेत की टिप्पणी नीचता की पराकाष्ठा है।उन्हें तुरंत बर्खास्त कर देना चाहिए। क्या प्रियंका गांधी इस पर कुछ बोलेंगी या मल्लिकार्जुन खड़गे उन्हें कांग्रेस से बाहर करेंगे? हाथरस लॉबी अब कहां चली गई है? पूनावाला ने कहा पहले कांग्रेस नेताओं ने संदेशखाली मामले को सही ठहराने की कोशिश की, फिर लाल सिंह को टिकट दे दिया और अब ऐसी हरकतें कर रहे हैं। वहीं, केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने इस मामले को लेकर कहा कि सुप्रिया श्रीनेत ने जो कुछ कहा वह यह सोचने पर मजबूर कर देता है कि कांग्रेस इतना घिनौनापन लाती कहां से है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *