अपराधनोएडा

‘एल्विश मेरा दोस्त’, ‘मैं एल्विश को नहीं जानता’… सांप के जहर वाले केस में पकड़े गए दो आरोपी क्या बोले?

नोएडा पुलिस ने यूट्यूबर एल्विश यादव मामले में दो और आरोपियों को गिरफ्तार किया है। जिन दो आरोपियों को पुलिस ने पकड़ा है उनमें – ईश्वर और विनय शामिल हैं। इन दोनों ही आरोपियों का अब एक वीडियो सामने आया है। इस वीडियो में नजर आ रहा है कि दोनों आरोपी पुलिसकर्मियों के बीच घिरे हैं। इस दौरान एक आरोपी ने मीडिया कर्मियों से मुखातिब होते हुए कहा. ‘मैं बहुत गरीब आदमी हूं।’ जब आरोपी से पूछा गया कि आपका एल्विश से क्या संपर्क है? तब उसने कहा, ‘मेरा टेंट का काम है। मेरा एल्विश से कोई संपर्क नहीं है। कभी जिंदगी में एल्विश ने दर्शन भी नहीं दिए। मैंने कभी एल्विश को देखा ही नहीं।’ इस दौरान दूसरे आऱोपी से जब पूछा गया कि वो एल्विश यादव को कैसे जानता है तब उसने कहा, ‘दोस्त है मेरा।’ फिर यह आरोपी कहता है, ‘भाई है मेरा भाई।’

डीसीपी शक्ति मोहन अवस्थी ने कहा, ‘जिस केस में एल्विश यादव को कुछ दिनों पहले गिरफ्तार किया गया है उसी केस में दो लोगों को सुबह पकड़ा गया है। ईश्वर सांप पकड़ने वाले राहुल से लगातार बातचीत करता था और उसका एक बैंक्वेट हॉल भी है। यहां वो सांपों को लाता था और सांप के जहर तैयार करता था। विनय, ईश्वर यादव का खास दोस्त है। दोनों को न्यायिक हिरासत में भेजा जा रहा है।’

सांप का जहर इस्तेमाल करने के मामले में बिग बॉस ओटीटी 2 के विजेता एल्विश यादव की गिरफ्तारी के बाद से पुलिस इस मामले में काफी तेजी से अपनी जांच को आगे बढ़ा रही है। एल्विश यादव को 2 दिन पहले ही गिरफ्तार किया गया था। आरोप है कि एल्विश यादव दिल्ली-एनसीआर में रेव पार्टी के दौरान सांप का जहर उपलब्ध करवाते थे। इस मामले में एल्विश समेत पांच अन्य लोगों पर भी केस दर्ज किया गया था।

दरअसल नोएडा पुलिस ने 8 नवंबर, 2023 को एक रेव पार्टी में सांप का जहर इस्तेमाल करने को लेकर FIR दर्ज की थी। जब पुलिस ने आरोपियों को पकड़ा था तब पहली बार एल्विश यादव का नाम सामने आया था। इसके बाद पुलिस ने इस मामले में लंबी जांच के बाद एल्विश यादव को पूछताछ के बाद पकड़ा था। अब तक की पुलिसिया जांच में यह बात सामने आई है कि रेव पार्टियों में सांप का इंतजाम दिल्ली के बदलपुर इलाके से किया जाता था। इसके बाद इनके जहर का इस्तेमाल इस तरह की महंगी रेव पार्टियों में होता था।

पुलिस ने पिछले साल 3 नवंबर को नोएडा सेक्टर 51 के बैंक्वेट हॉल में छापेमारी कर पांच कोबरा समेत नौ सांपों को बचाया था। आरोप लगे कि एल्विश यादव ने इस हॉल में हुई पार्टी में सापों का जहर सप्लाई किया था। सांपों के जहर की तस्करी का यह मामला काफी गंभीर है। पुलिस ने यूट्यूबर एल्विश यादव पर एनडीपीएस एक्ट भी लगाया है। जिसके बाद उन्हें जमानत लेने में भी मुश्किलें आ सकती हैं। इस मामले में अब तक 7 लोगों की गिरफ्तारी हो चुकी है। एल्विश यादव को अदालत ने 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में भेजा था और वो जेल में बंद हैं। जेल में एल्विश यादव को हाई-सिक्योरिटी सेल में रखा गया है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *