अपराधनोएडा

परिवार सहित कार को क्रेन से उठा ले गए पार्किंग कर्मी, वीडियो वायरल होने पर हरकत में आई नोएडा पुलिस

नोएडा में कॉन्ट्रैक्ट पार्किंग स्टाफ की दबंगई का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल है, जिसमें एक क्रेन लाल रंग की हैचबैक कार को खींचकर ले जा रही है, जबकि दो वरिष्ठ नागरिक उसके अंदर बैठे हुए हैं. कार में बैठे दो वरिष्ठ नागरिकों ने नोएडा में अनुबंधित पार्किंग कर्मचारियों द्वारा दुर्व्यवहार का आरोप लगाया है. उन्होंने कहा कि वे अस्पताल जा रहे थे, तभी अनुबंधित पार्किंग कर्मियों ने उनकी कार को अवैध तरीके से टो कर लिया. दोनों वरिष्ठ नागरिकों में से एक हार्ट पेशेंट है.

इस वीडियो का संज्ञान लेते हुए नोएडा पुलिस ने आरोपी अनुबंधित पार्किंग कर्मचारियों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की है और सेक्टर 50 में पार्किंग का काम संभालने वाली निजी एजेंसी पर नोएडा प्राधिकरण की ओर से 50,000 रुपये का जुर्माना लगाया गया है. पुलिस की ओर से पार्किंग का काम संभालने वाली निजी एजेंसी को कारण बताओ नोटिस जारी किया गया है कि उसे क्यों नहीं ब्लैक लिस्ट कर दिया जाए.

एक निजी समाचार चैनल से बात करते हुए कार मालिक विश्वजीत मजूमदार ने कहा, ‘मैं अपनी भाभी के साथ नोएडा सेक्टर 50 के एक अस्पताल में गया था. अस्पताल ने मुझसे कुछ दस्तावेजों की फोटोकॉपी के साथ नकद भुगतान के लिए कहा. थोड़ी जल्दीबाजी में हमने सेक्टर 50 में नो-पार्किंग जोन में कार पार्क कर दी और नो-पार्किंग साइनेज नहीं देख सके. क्योंकि यह पेड़ की पत्तियों से ढका हुआ था. हम काम के बाद पांच मिनट में वापस आ गए और अपनी कार में बैठ गए. तभी एक टोइंग व्हिकल आई और हमारी कार को खींचकर ले जाने लगी’.

उन्होंने आगे कहा, ‘मैंने पार्किंग कर्मचारियों से विनती की कि मेरे साथ एक पेशेंट है जिसे अस्पताल जाना है. उसे दिल की बीमारी है. हम वरिष्ठ नागरिक हैं, 70 साल के हैं. पार्किंग कर्मचारियों ने हमारी बात नहीं सुनी. वहां भीड़ जमा हो गई और उन्होंने भी पार्किंग कर्मचारियों से हमारी कार को छोड़ने की अपील की, लेकिन कोई फायदा नहीं हुआ. पार्किंग कर्मचारियों ने जोर देकर कहा कि वे कार को पुलिस स्टेशन ले जाएंगे’.

इस मामले में नोएडा अथॉरिटी ने एक बयान जारी कर कहा, ‘शहर में सुचारू यातायात के लिए निजी एजेंसियों के माध्यम से विभिन्न सेक्टरों में पार्किंग का संचालन होता है. एमजी इंफ्रा सॉल्यूशन को सेक्टर 50 में काम आवंटित किया गया है. बुधवार को इसके क्रेन ऑपरेटर और उसके सहायक ने अवैध रूप से एक कार को सेक्टर 50 से खींचकर सेक्टर 32 में लॉजिक्स मॉल की पार्किंग में ला दिया. अनुबंधित पार्किंग कर्मियों की इस हरकत के कारण अथॉरिटी की छवि खराब हुई है’.

नोएडा अथॉरिटी ने आगे कहा, ‘इस कंपनी को पहले भी अनुबंध की शर्तों का उल्लंघन कर नागरिकों से दुर्व्यवहार करने और उनसे पैसे ऐंठने को लेकर चेतावनी दी जा चुकी है. 20 मार्च को हुई घटना के लिए क्रेन ऑपरेटर और उसके सहायक के खिलाफ सेक्टर 49 पुलिस स्टेशन में एफआईआर दर्ज की गई है, जबकि एमजी इंफ्रा सॉल्यूशन पर 50,000 रुपये का जुर्माना लगाया गया है.  एमजी इंफ्रा सॉल्यूशन कंपनी को यह बताने के लिए कारण बताओ नोटिस भी जारी किया गया है कि उसे अथॉरिटी द्वारा ब्लैक लिस्ट में क्यों नहीं डाला जाना चाहिए’.

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *