व्यापार

GST से भरा केंद्र का खजाना, फरवरी में मिला 1,68,337 करोड़ का रेवेन्यू

केंद्र सरकार को फरवरी 2024 में जीएसटी कलेक्शन में अच्छा मुनाफा हुआ है। पिछले महीने सरकार को 1,68,337 करोड़ का रेवेन्यू मिला है। सकल घरेलू उत्पाद पर आंकड़ों के बाद गुड्स एंड सर्विसेज कलेक्शन के नंबर अच्छे हैं। पिछले साल फरवरी के कलेक्शन के मुकाबले 12.5 प्रतिशत की वृद्धि है। वित्तवर्ष 2022-23 में औसत माह ग्रोस कलेक्शन 1.5 लाख करोड़ था। वहीं, वित्तवर्ष 2023-24 के लिए 1.67 करोड़ दर्ज हुआ है।
वित्त मंत्रालय द्वारा जारी डेटा के अनुसार वित्तवर्ष 2023-24 के लिए ग्रोस जीएसटी कलेक्शन 18.40 करोड़ है, जो ईयर ऑन ईयर 11.7 फीसदी की बढ़ोतरी है। फरवरी में नेट रेवेन्यू 13.6 फीसदी बढ़कर 1.51 लाख करोड़ रुपये रहा है। इस साल 13 फीसदी की वृद्धि के साथ 16.36 लाख करोड़ रहा।
फरवरी 2024 के कलेक्शन का विवरण
केंद्रीय वस्तु एवं सेवा कर (सीजीएसटी)- 31,785 करोड़
राज्य वस्तु एवं सेवा कर (एसजीएसटी)- 39,615 करोड़
एकीकृत वस्तु एवं सेवा कर (आईजीएसटी)- 84,098 करोड़। जिसमें आयातित वस्तुओं पर एकत्र 38,593 करोड़ शामिल है।
उपकर- 12,839 करोड़। जिसमें आयातित वस्तुओं पर एकत्रित 984 करोड़ शामिल हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *